--Advertisement--

मुजफ्फरपुर : एनएच 77 पर फिर हादसा, ऑटो सवार महिला की मौत के बाद बवाल, लाठीचार्ज

मतृका जीविका दीदी के रूप में काम करती है। वह अपने मायके मीनापुर के नेउरा जा रही थी।

Danik Bhaskar | Mar 28, 2018, 05:03 AM IST

मुजफ्फरपुर/अहियापुर. जीरोमाइल चौक से मीनापुर (टेंगराहा) जा रहा ऑटो मंगलवार की शाम एनएच-77 के भिखनपुर में अनियंत्रित होकर बीच सड़क पर ही पलट गया। इससे ऑटो में सवार एक महिला की मौत हो गई। वहीं, आधा दर्जन लोग घायल हो गए। घायलों में चार का इलाज एसकेएमसीएच में चल रहा है। अन्य लोग निजी क्लीनिक में इलाज करा रहे हैं। बार-बार एनएच 77 पर हादसे से आक्रोशित लोगों ने भिखनपुर में सड़क जाम कर हंगामा शुरू कर दिया। दुर्घटनाग्रस्त ऑटो को भी लोगों ने क्षतिग्रस्त कर दिया। दो घंटे विलंब से मौके पर पहुंची पुलिस को लोगों ने खदेड़ दिया।

देर शाम पहुंचे डीएसपी पूर्वी गौरव पांडेय को भी लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा। शव उठाने के दौरान पुलिस ने लाठीचार्ज करते हुए 5 लोगों को हिरासत में ले लिया। मृतका की पहचान मोतीपुर के राजेश प्रसाद गुप्ता की पत्नी सरोज देवी के रूप में की गई। वह जीविका दीदी के रूप में काम करती है। वह अपने मायके मीनापुर के नेउरा जा रही थी। घायलों में रिटायर्ड अभियंता मीनापुर के शिवशंकर सिंह, दसई सहनी उनकी पत्नी सीता देवी और लक्ष्मी देवी का इलाज एसकेएमसीएच में चल रहा है।

जोरदार आवाज के साथ बीच सड़क पर पलट गया ऑटो

मैं बीच वाली सीट पर अपने पति के साथ बैठी थी। गाड़ी काफी तेज रफ्तार में थी। सामने से आ रही एक ब्लू रंग की कार के सामने ऑटो आ गया। ऑटो में तेज आवाज में गाना बज रहा था। चालक ने सामने से आ रही कार को देखा तो एकाएक ऑटो को ब्रेक लगाकर रोकने लगा। इस क्रम में ऑटो जोरदार आवाज के साथ बीच सड़क पर ही पलट गया। गाड़ी पलटने से बगल में बैठी सरोज देवी का सिर गाड़ी से दब गया और घटना स्थल पर ही उसकी मौत हो गई। गाड़ी पलटने के बाद चालक फरार हो गया। इसके बाद कुछ स्थानीय युवक आए और लोगों को खींचकर बाहर निकाला। घटना में मेरे पति भी घायल हो गए। उन्हें सिर में चोट आयी है। ईश्वर का शुक्र है कि हम लोग बच गए।
(जैसा कि रमा सिंह ने दैनिक भास्कर को बताया)

वाहनों की होगी गहन जांच, आरटीए सचिव ने दिया आदेश
जिले में हो रही सड़क दुर्घटनाओं को देखते हुए प्रशासन ने वाहनों की गहन जांच कराने का निर्णय लिया है। आरटीए सचिव डाॅ. रंगनाथ चौधरी ने जिला समेत तिरहुत प्रमंडल के सभी जिलों में सड़क दुर्घटना को रोकने के लिए वाहनों की गहन जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही जांच के दौरान वाहन परिचालन संबंधी नियमों का उल्लंघन मिलने पर कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

लगातार हो रहे हादसे के कारण गुस्से में थे लोग, हंगामे के कारण लगी रहीं वाहनों की कतारें

भिखनपुर में सड़क हादसे के बाद हंगामा कर रहे लोगों ने सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर मेन रोड को तीन घंटे से भी ज्यादा समय तक जाम कर विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लगी रहीं। बार-बार सीतामढ़ी-मुजफ्फरपुर रोड में सड़क हादसे से लोग काफी नाराज दिखे। एनएच-77 पर बार-बार हादसा होने से डरे लोगों ने सड़क पर डिवाइडर बनवाने की मांग की। राजद नेता चंदन यादव, अमेंद्र कुमार, तरुण चौधरी आदि नेताओं व स्थानीय लोगों ने सड़क पर डिवाइडर बनाने, स्पीड नियंत्रण व ओवरलोडिंग रोकने की मांग की। डीएसपी पूर्वी गौरव पांडेय ने लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया। उधर, घायलों के एसकेएमसीएच पहुंचने पर अधीक्षक डॉ. जीके ठाकुर खुद इलाज की मॉनिटरिंग करते रहे।

ऑटो चालक का ड्राइविंग लाइसेंस होगा रद्द
जिला परिवहन अधिकारी नजीर अहमद ने बताया कि ऑटो मीनापुर के गोसाईपुर के रघुनाथ प्रसाद के पुत्र सुनील सिंह का है। 5 जुलाई 17 को रजिस्ट्रेशन हुआ था। ऑटो चालक का लाइसेंस रद्द होगा।

ऑटो यूनियन ने कहा- अब होगी जुर्माना वसूली
ऑटो-रिक्शा कर्मचारी यूनियन ने कहा कि प्रशासन के अभियान में पूरा सहयोग करेंगे। जिलाध्यक्ष एआर अन्नू ने कहा कि अधिक सवारी बैठाते हुए पाया गया तो जुर्माना किया जाएगा।

पथराव के बाद लाठी चार्ज
सिटी एसपी उपेंद्रनाथ वर्मा ने बताया कि सड़क जाम कर रहे लोगों ने पुलिस पर पथराव किया। पुलिस ने बचाव में लाठीचार्ज कर चार उपद्रवियों को गिरफ्तार कर लिया। मामले में उपद्रवियों पर नामजद एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।