--Advertisement--

ब्लैकमेल / युवती ने दर्ज कराई प्राथमिकी, नौकरी दिलाने का झांसा दे किया यौन शोषण



प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
X
प्रतीकात्मक फोटोप्रतीकात्मक फोटो

  • फर्जी आईडी बना अश्लील फोटो डाल कर देह व्यापार के लिए बाध्य करने का भी आरोप

Dainik Bhaskar

Sep 16, 2018, 02:29 PM IST

मुजफ्फरपुर.  अधिकारियों में रसूख का हवाला देकर पहले नौकरी दिलवाने का झांसा दिया। गहने बेचवाकर एक लाख रुपए भी ले लिया। इसके बाद अश्लील तस्वीर बनाकर 8 माह से ब्लैक मेल और यौन शोषण करने लगा। बाद में तस्वीर व अश्लील ऑडियो भी सोशल साइट पर वायरल कर दिया। 

 

एसएसपी से मिली युवती 
न्याय की गुहार लगाते हुए ये बातें एक युवती ने एसएसपी हरप्रीत कौर से कही। इस पर एसएसपी ने महिला थानेदार ज्योति कुमारी को एफआईआर दर्ज कर आरोपित को गिरफ्तार करने का आदेश दिया। युवती ने महिला थाने पहुंच वैभव मिश्रा व उसकी दो महिला दोस्त को आरोपित करते हुए शुक्रवार की रात 9 बजे एफआईआर दर्ज कराई। 

 

महिला थानेदार ने तीनों आरोपितों की गिरफ्तारी को रात 12 बजे पंखाटोली में संबंधित ठिकाने पर छापेमारी की, लेकिन तीनों फरार थे। शनिवार को सूचना मिली कि तीनों आरोपित लक्ष्मी चौक के पास किराए के मकान में रह रहे हैं। लेकिन, वहां भी पुलिस टीम ने जब छापा मारा तो आरोपित नहीं मिले।

 

आरोपित युवक व दो युवतियों की गिरफ्तारी को छापे
युवती के अनुसार जनवरी 2018 में फेसबुक के जरिए अंकिता से दोस्ती हुई थी। उसके बाद मोबाइल पर बातें होने लगीं। उसने ही वैभव मिश्रा से मिलवाया। कई अधिकारियों से पहचान का हवाला देते हुए एक कंपनी में नौकरी दिलवाने की बात कही। एक लाख रुपए मांगे। मां के गहने बेच व 25 हजार रुपए कर्ज लेकर उसे 1 लाख रुपए दे दिए। 

 

बना ली अश्लील तस्वीर 
उसके बाद एक दिन वैभव के गन्नीपुर स्थित घर में जबरन अश्लील तस्वीर बना ली गई। तस्वीर सोशल साइट पर डालने की बात कह वैभव के दोनों महिला दोस्तों ने देह व्यापार के लिए दबाव बनाया। उसके बाद से वैभव मिश्रा ब्लैकमेल करता रहा। कई बार अश्लील हरकत कर चुका है। उसके जुल्म की इंतहा हो जाने पर काफी हिम्मत जुटाकर पुलिस के पास पहुंची।

 

छूटने के 3 घंटे बाद एफआईआर
मधेपुरा सांसद पप्पू यादव की पदयात्रा के दिन हंगामा करने पर वैभव को पुलिस ने गिरफ्तार कर शाम 6 बजे अहियापुर थाने से छोड़ दिया। उसके छूटने के 3 घंटे बाद महिला थाने में युवती के यौन शोषण और अश्लील तस्वीर वायरल करने का मामला दर्ज किया गया।

 

गंभीर आरोप है। पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए सख्त कार्रवाई की जाएगी। आरोपितों पर यौन शोषण और आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। -हरप्रीत कौर, एसएसपी।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..