अधिकारियों की अनुपस्थिति से गर्म रहा माहौल, कार्रवाई का प्रस्ताव हुआ पारित

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लंबे समय के बाद शनिवार को पंचायत समिति की बैठक प्रखंड सभागार में प्रखंड प्रमुख पप्पू कुमार की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक में कई पदाधिकारियों के अनुपस्थित रहने के मामले को लेकर माहौल काफी गरम रहा। पंसस पंकज कुमार मिश्रा ने अनुपस्थित पदाधिकारियों पर कार्रवाई का प्रस्ताव लाया, जिसे सदस्यों ने ध्वनिमत से पारित कर दिया। बैठक से सीओ, थानाध्यक्ष, बीएओ, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी सहित आधा दर्जन से अधिक पदाधिकारी अनुपस्थित थे। बीडीओ रवि रंजन ने मामले में अनुपस्थित पदाधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगे जाने व डीएम को रिपोर्ट भेजने की बात कही है। जिला परिषद अध्यक्ष इंद्रा देवी ने बैठक में प्रखंड परिसर की स्वच्छता का मामला उठाया। वहीं, मुखिया और पंसस ने एमओ, सीडीपीओ, कनीय विद्युत अभियंता को जमकर घेरा। मौके पर उप प्रमुख चंदेश्वर राय, जिप अमित कुमार, पंसस सुभाष कुमार, मो. अली, मुखिया मो. अफरोज, राजहंस राय, बाबूलाल पासवान, प्रमोद रजक, सुरेश पासवान, संजय कुमार उपस्थित थे।

बैठक में नहीं पहुंचे सीओ, थानाध्यक्ष, बीएओ, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी सहित आधा दर्जन अधिकारी

मुशहरी में पंचायत समिति की बैठक को संबोधित करते बीडीओ।

भूमि घोटाले के आरोपी राजस्वकर्मी की पोस्टिंग पर उठे सवाल
पंसस आशा देवी ने भगवानपुर भूमि घोटाला एवं सीलिंग की जमीन के दाखिल-खारिज करने के मामले में निलंबित रहे राजस्व कर्मचारी शत्रुघ्न राम के मुशहरी अंचल में पदस्थापन पर सवाल उठाते हुए उनके मुशहरी अंचल से स्थानांतरण का प्रस्ताव दिया, जिसे सर्वसम्मति से पारित किया गया। कहा कि उन पर निगरानी न्यायालय में मामला चल रहा है। उधर, पंसस अन्नू कुमार दास ने कहा कि तरौरा गोपालपुर, प्रह्लादपुर, रजवाड़ा, डुमरी, नरौली, बैकटपुर आदि पंचायतें प्रखंड कृषि पदाधिकारी की लापरवाही से मुख्यमंत्री फसल सहायता योजना से वंचित हो गए हैं। इन पंचायतों के किसानों को योजना में शामिल किए जाने की मांग उठाई। मुखिया अजय कुमार सिंह ने कहा कि प्रत्येक पंचायत में पंचायत सरकार भवन बनाने के लिए राशि आ गई है। लेकिन, सीओ के लापरवाही से जमीन उपलब्ध नहीं हो रहा है। पंसस अजय कुमार ठाकुर, गदाधर सहनी, रामश्रेष्ठ सहनी आदि ने सर्दी के सीजन में राशन कार्ड के लिए जमा हजारों आवेदन पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं होने का मामला उठाया। साथ ही जल नल योजना में अनियमितता और शौचालय निर्माण में रिश्वतखोरी का मामला पंसस किरण और ब्रजकिशोर राय ने उठाया। मुखिया रंजन कुमार, मुखिया अरविंद कुमार सिंह, पंसस राजकुमार पासवान, पंकज कुमार मिश्रा एव‌‌ं जिला पार्षद रूदल राम ने प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी से काफी तीखे सवाल किए। डीलरों की जांच, राशन वितरण में अनियमितता, भंडार सत्यापन, पंचायत निगरानी समिति के अप्रभावी होने के मुद्दे पर सदस्यों ने एमओ राघवेंद्र नारायण से सवाल किए। मुखिया अनंतलाल साह ने झपहा पंचायत में आंगनबाड़ी केंद्र में भैंस बांधने का मामला उठाया। पंसस राजकुमार पासवान ने 10 वर्ष से एक ही स्कूल में पदस्थापित प्रखंड शिक्षकों के स्थानांतरण का प्रस्ताव पेश किया, जिसे सदन ने पारित कर दिया।

सरकारी दस्तावेजों से छेड़छाड़ किए जाने की शिकायत, पंसस ने डीएम व सीओ को लिखा

औराई |धरहरवा पंचायत की पंचायत समिति सदस्य कल्पना कुमारी ने शनिवार को डीएम व सीओ समेत अन्य पदाधिकारियों को पत्र लिखकर पंचायत के राजस्व कर्मी पर निजी व्यक्ति को रखकर सरकारी दस्तावेजों के साथ छेड़छाड़ करने, दाखिल-खारिज व लगान रसीद काटने में अवैध वसूली करने का आरोप लगाया है। कहा है कि उक्त राजस्व कर्मी शहर में रहकर कार्यालय चलाते हैं। वहीं, उनका बिचौलिया गांव के किसानों से मोटी रकम लेकर सभी कार्यों को अंजाम देता है। उपप्रमुख शैलेंद्र शुक्ला ने भी पंचायतों में राजस्वकर्मियों द्वारा बहाल निजी लोगों को हटाने की मांग सीओ से की है। मामले में सीओ शंकर लाल विश्वास ने बताया कि छानबीन कर उक्त राजस्वकर्मी व बिचौलिए पर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...