--Advertisement--

1.37 हजार क्यूसेक के पार पहुंचा गंडक बराज का जलस्तर, 24 घंटे में हुई ढाई गुना से अधिक बढ़ोतरी

वाल्मीकिनगर स्थित गंडक बराज के जल स्तर में पिछले 24 घंटे के दौरान भारी बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

Danik Bhaskar | Jul 03, 2018, 03:34 PM IST

बगहा. वाल्मीकिनगर स्थित गंडक बराज के जल स्तर में पिछले 24 घंटे के दौरान भारी बढ़ोतरी दर्ज की गई है। रविवार को बराज का डिस्चार्ज 49,800 क्यूसेक दर्ज किया गया था। जबकि सोमवार को जलस्तर 1.37 लाख क्यूसेक को पार कर गया। जलस्तर में बढ़ोतरी का सिलसिला लगातार जारी है। जलस्तर दो लाख क्यूसेक के पार जाने की संभावना है।

तेज बारिश के कारण हुई बढ़ोतरी
नेपाल समेत गंडक नदी के जल ग्रहण क्षेत्र में लगातार हो रही तेज बारिश के कारण यह बढ़ोतरी दर्ज हुई है। गंडक बराज पर तैनात अभियंता लगातार निगरानी में जुटे हैं। गंडक बराज के कर्मियों को पूरी तरह अलर्ट पर रखा गया है। बराज के नियंत्रण कक्ष में बिजली की अनवरत आपूर्ति के लिए जनरेटर की वैकल्पिक व्यवस्था दुरुस्त कर ली गई है। आपात स्थिति में फाटक को उठाने व गिराने के लिए खास मुश्तैदी बरती जा रही है।

मसान समेत पहाड़ी नदियों में उफान के कारण लोगों की बढ़ी तबाही
इस बीच, मसान, हरहा, कापन, सिंगाही आदि पहाड़ी नदियों में भी तेज उफान के कारण इन नदियों के तटवर्ती इलाकों में बेचैनी का आलम है। मसान नदी का पानी रामनगर प्रखंड के आधा दर्जन गांवों में घुस आया है। जबर्दस्त कटाव करने वाली इस नदी में उफान के कारण लोग बेचैन हो चले हैं।