भास्कर ने जगाया / भीड़ हिंसा के विरुद्ध खड़ी हुईं पांच जिलाें की 26 पंचायतें, कहा- अब बेकसूर का नहीं बहेगा खून



Bhaskar Campaign: 26 Panchayats in five districts against mob violence
X
Bhaskar Campaign: 26 Panchayats in five districts against mob violence

  • दैनिक भास्कर के अहिंसात्मक अभियान के हिस्सा बने छह हजार से अधिक लाेग
  • पंचायतों ने भीड़ हिंसा का हिस्सा बनने वाले असामाजिक तत्वों को पुलिस के हवाले करने का लिया निर्णय

Dainik Bhaskar

Oct 03, 2019, 06:55 AM IST

मुजफ्फरपुर. भीड़ हिंसा के विरुद्ध दैनिक भास्कर और ग्राम पंचायतों के अहिंसात्मक अभियान में बुधवार को पांच जिलों में 26 पंचायतें हुईं। सबसे अधिक 19 पंचायत मोतिहारी में। पांच जिलों में हुई इन पंचायतों में लगभग 6000 से अधिक लोग शामिल हुए। सभी अहिंसात्मक अभियान का हिस्सा बने और यह निर्णय लिया कि किसी बेकसूर को भीड़ हिंसा का शिकार नहीं होने देंगे।

 

अगर कोई भीड़ हिंसा में शामिल होता है तो उसकी पहचान कर सजा दिलाने का काम करेंगे। इन पंचायतों का असर ऐसा था कि जिलों में पदस्थ प्रशासनिक अधिकारी भी शामिल हो गए। पश्चिम चंपारण जिले के मधुबनी प्रखंड की दौनाहा पंचायत ने निर्णय लिया कि पंचायत के लोगों को जागरूक करेंगे। बावजूद अगर भीड़तंत्र नहीं मानता है तो उसके खिलाफ पंचायत कार्रवाई करेगी। उन्हें दंडित करेगी और ऐसे दोषियों को कानून के हवाले करेगी।

 

19 पंचायतों ने बेकसूर लोगों को बचाने का लिया संकल्प
मोतिहारी :
 19 पंचायतों ने भीड़ का हिस्सा बन किसी भी बेकसूर का खून नहीं बहाने देने का संकल्प लिया। पंचायतों ने माना कि अगर कोई पकड़ा जाता है तो अफवाह फैलाए बिना उसे पुलिस के हवाले करेंगे। पंचायतों ने कहा कि हम जागरूक नहीं थे, इसलिए जिले में पिछले महीने भीड़ ने दो बेकसूरों की हत्या कर दी। भास्कर ने हमें जगाने का काम किया है।


ग्रामीणों से किसी अफवाह पर ध्यान नहीं देने की अपील
सीतामढ़ी :
दो पंचायतों ने भीड़ हिंसा को बढ़ावा देने वाले व्यक्ति को समाज से बहिष्कृत करने की शपथ ली। ग्रामीणों से किसी भी तरह की अफवाह पर ध्यान नहीं देने की अपील की। साथ ही अफवाह फैलाने वालों को चिह्नित कर पुलिस के हवाले करने का निर्णय लिया।

 

बच्चा चोर की अफवाह पर भीड़ हिंसा नहीं करेंगे
मधुबनी :
महापंचायत कर लोगों ने कहा- अफवाह से जो समाज में अस्थिरता फैलाने का काम करेगा, उसे समाज से बहिष्कृत किया जाएगा। सामूहिक रूप से निर्णय लिया गया कि बच्चा चोर के नाम पर भीड़ का हिस्सा नहीं बनने देंगे।


भीड़ हिंसा में शामिल को पुलिस के हवाले करेंगे
दरभंगा :
पंचायतों ने निर्णय लिया कि अगर कोई पकड़ा जाता है तो उसकी बिना पिटाई किए पुलिस में दिया जाएगा। अगर कोई भीड़ हिंसा में शामिल होता है तो सामाजिक बहिष्कार के साथ ही उसे भी पुलिस को सौंप दिया जाएगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना