प्रेम-प्रसंग में हत्या / शादी के आश्वासन पर लड़की ने प्रेमी को घर बुलाया, दादा ने मार दी गोली



दिवाकर की फाइल फोटो। दिवाकर की फाइल फोटो।
X
दिवाकर की फाइल फोटो।दिवाकर की फाइल फोटो।

  • रून्नीसैदपुर के अथरी गांव के गाछी टोला में सीएसपी संचालक दिवाकर को मार डाला 
  • प्रेमिका ने घटना की सूचना प्रेमी के पिता को दी

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 10:42 AM IST

सीतामढ़ी. बिहार के सीतामढ़ी जिले के रून्नीसैदपुर थाना क्षेत्र के अथरी गांव के गाछी टोला में पूर्व के प्रेम प्रसंग की रंजिश में मंगलवार की देर रात करीब दो बजे लड़की के परिजनों ने प्रेमी सह सीएसपी संचालक को अपने घर बुलाकर लाइसेंसी बंदूक से गोली मार हत्या कर दी। प्रेमिका ने घटना की सूचना प्रेमी के पिता को दी। मृतक के पिता प्रेमिका के घर पहुंचे। अपने बेटे को खून से लथपथ मृत अवस्था में उसके घर में पाया। तब घटना की सूचना पुलिस को दी। 

 

सूचना पर थानाध्यक्ष देवेंद्र प्रसाद सिंह घटनास्थल पर पहुंचे। वहीं, मामले की छानबीन की। साथ ही लड़की की मां विद्या चौधरी व उसके चाचा राजेन्द्र चौधरी को गिरफ्तार कर लिया। मृतक की पहचान उमाशंकर सिंह के 25 वर्षीय पुत्र दिवाकर सिंह के रूप में हुई। मृतक के पिता के बयान पर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई। इसमें पांच लोगों पर पूर्व के प्रेम प्रसंग के विवाद में उसके पुत्र की गोलीमार हत्या कर देने का आरोप लगाया गया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया। 

 

दिवाकर को प्रेमिका के अपहरण के मामले में हो गई थी जेल 
प्रेमिका ने पुलिस को बताया कि उसका ग्रामीण दिवाकर सिंह से विगत दो वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। सात माह पूर्व दोनों भागकर हरियाणा चले गए थे। वहीं, एक मंदिर में दोनों ने शादी कर ली। इसके बाद उसके परिजनों ने थाने में अपहरण की प्राथमिकी दर्ज करा दी। पुलिस दोनों को हरियाणा से तीन माह पूर्व गिरफ्तार कर थाने ले आई। वहीं, न्यायालय में प्रस्तुत किया। नाबालिग के आधार पर न्यायालय के आदेश पर उसे उसके माता-पिता को सौंप दिया गया। वहीं, दिवाकर को जेल भेज दिया गया। 

 

गिरफ्तारी के लिए की जा रही छापेमारी 
थानाध्यक्ष देवेंद्र प्रसाद सिंह ने कहा कि मृतक के पिता के बयान पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। शेष आरोपितों के गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। 

 

दो माह पूर्व दिवाकर जेल से आया था बाहर 
प्रेमिका ने पुलिस को बताया कि दो माह पूर्व दिवाकर जेल से बाहर निकला था। दोनों के बीच रिश्ते टूटे नहीं थे। बातचीत हो रही थी। मंगलवार को उसके परिजनों ने उसे दिवाकर को घर बुलाने को कहा। वहीं दोनों की शादी कर देने की बात कही। उसने फोन कर दिवाकर को घर बुलाया। वहीं, उसके परिजनों से विवाद होने पर दादा ने गोली मारकर दिवाकर की हत्या कर दी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना