लॉक डाउन के दौरान सब्जी, फल की दुकानों और हाटों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना चुनौती

Muzaffarpur News - जिले की चिह्नित 9 मिलों को प्रतिदिन क्षमता के अनुसार गेहूं उपलब्ध कराने का दिया आदेश अावश्यक आवश्यकता में...

Mar 31, 2020, 07:41 AM IST
जिले की चिह्नित 9 मिलों को प्रतिदिन क्षमता के अनुसार गेहूं उपलब्ध कराने का दिया आदेश

अावश्यक आवश्यकता में शामिल हाेने से जिले में सब्जी, फलाें की दुकान के साथ ही हाटाें में लॉकडाउन के दाैरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना बड़ी चुनौती साबित हाे रही है। प्रशासन द्वारा लोगों की आवश्यकता पूरी करने के लिए फल-सब्जियाें की दुकानों काे खाेलने की छूट अब परेशानी का कारण बन रहा है। अामलाेग जिले में लॉकडाउन के दौरान फल व सब्जियाें की दुकानों के सामने अत्यधिक भीड़ लगा रहे हैं। स्थिति काे देखते हुए डीएम डाॅ. चंद्रशेखर सिंह ने नगर अायुक्त काे सभी फल सब्जियाें की दुकानों के साथ ही हाट में लगाई दुकानों के सामान लाेगाें काे एक अलग-अलग खड़े रहने के लिए माइर्किंग कराने काे कहा है।

डीएम के अादेश से अाज फल व सब्जियाें की दुकानों के साथ ही हाट बाजाराें में दुकानों के सामाने लाेगाें काे खड़ा रहने के लिए नगर निगम द्वारा मार्किंग कराई गई। कर्मचारियाें ने सब्जी, फल कीे दुकान व हाटाें में लॉकडाउन के दैारान साेशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने काे कहा। सभी दुकानदाराें काे लोगों को आवश्यकता अनुसार दूरी बना कर खड़ा कराने काे कहा गया। दुकानों के सामने अत्यधिक भीड़ हाेने पर दुकानदाराें अाैर ग्राहकाें पर भी कार्रवाई की चेतावनी दी गई।

12 नर्सिंग हाेम में उपलब्ध सुविधाओं की संचालकों से मांगी जानकारी

मुजफ्फरपुर | काेराेना वायरस संक्रमित मरीजाें की संख्या जिले में बढ़ती है ताे उनके इलाज में काेई कठिनाई न हाे, इसके लिए निजी नर्सिंग हाेम व अस्पतालाें की पड़ताल भी शुरू कर दी गई है। सिविल सर्जन डाॅ. शैलेश प्रसाद सिंह ने शहर के 12 नर्सिंग हाेम संचालकाें काे पत्र लिख कर उनके यहां उपलब्ध स्वास्थ्य सुविधाअाें की जानकारी मांगी है। प्रबंधन काे अस्पताल में कमराें की संख्या, डाॅक्टर, स्टाफ, अाईसीयू व वेंटिलेटर की संख्या व अन्य प्रमुख जानकारियां देनी है। ताकि, मरीजाें की भीड़ बढ़ने पर उन्हें निजी अस्पतालाें में भी शिफ्ट किया जा सके।

आटा की किल्लत नहीं हो इसके लिए जिले की 9 मिलों को प्रत्येक दिन उपलब्ध कराया जाएगा गेहूं

मुजफ्फरपुर | आटा की किल्लत नहीं हो इसके लिए जिले की 9 अाटा मिलों को गेहूं आपूर्ति शुरू की गई है। डीएम डाॅ. चंद्रशेखर सिंह ने चयनित सभी मिलों को एफसीआई को प्रतिदिन क्षमता के अनुसार गेहूं उपलब्ध कराने का आदेश दिया है। साथ ही मिलाें काे लगातार आटा दुकानदारों को उपलब्ध कराने के लिए कहा है। जिले में अाटा की कमी काे देखते हुए डीएम ने एफसीआई से प्रतिदिन चयनित आटा मिलों को गेहूं की आपूर्ति करने का आदेश दिया है। इन आटा मिलों को कुटाई क्षमता के अनुसार, 30 दिनों का गेहूं उपलब्ध कराया जाएगा, ताकि आटा को आम लोगों के बीच निर्धारित कीमत पर लॉकडाउन की स्थिति में उपलब्ध कराया जा सके। गेहूं की आपूर्ति के लिए और काेराेना के संक्रमण काे फैलने से राेकने के लिए लॉकडाउन में आवश्यक सामग्री उपलब्ध कराने के लिए यह आदेश दिया गया है।

डीएम ने लाेगाें काे अाटा की किल्लत नहीं हाेने देने का आश्वासन दिया है। जिले की राज फ्लावर मिल शादातपुर, अन्नपूर्णा मोतीपुर, रिद्धि-सिद्धि बेला, विटकाे फ्लावर मिल बेला, पशुपति फ्लावर मिल बेला, सुमित्रा साहू एंड कंपनी बेला, गणपति फूड इंडस्ट्री नेकनामपुर चौक मीनापुर, एमअार फ्लावर मिल ब्रह्मपुरा, श्यामा एग्राे फूड एंड सप्लाई बेला इंडस्ट्रियल एरिया काे प्रतिदिन मिलिंग क्षमता 303 टन के हिसाब से 30 दिनाें का 9090 टन गेहूं आपूर्ति करने का अादेश दिया गया है।

लोग दूरी बना कर खरीदारी करें इसके लिए माइकिंग कराने का अधिकारियों को दिया निर्देश

डीएम ने सब्जियों के लिए लगने वालेे हाटों में पहुंचनेवालों से भी आपस में दूरी रखने को कहा

जरूरी सामान की खरीदारी करें, पर ऐसे समूह में नहीं | यह भीड़ अखाड़ाघाट सब्जी मंडी की है। यहां अब भी सुबह-शाम काफी संख्या में लाेग सब्जियों समेत अन्य सामान की खरीदारी के लिए शहर के विभिन्न इलाकों से पहुंचते हैं। लेकिन, चिंता की बात यह है कि लोग समूह में खरीदारी करते देखे जाते हैं। लेकिन, काेराेना के बढ़ते संक्रमण काे देखते हुए यह कहीं से उचित नहीं है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना