पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पति-पत्नी के शासन में क्यों नहीं बना अस्पताल: नीतीश

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री ने सरायरंजन में मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल का किया कार्यारंभ। - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री ने सरायरंजन में मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल का किया कार्यारंभ।
  • नीतीश ने समस्तीपुर के सरायरंजन में श्रीराम जानकी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल का कार्यारंभ किया

सरायरंजन/पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को समस्तीपुर के सरायरंजन में श्रीराम जानकी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल का कार्यारंभ किया। उन्होंने कहा-\'एक मंत्री व राजद-कांग्रेस के विधायक इस अस्पताल को समस्तीपुर मुख्यालय में ही बनाने पर अड़े हैं। इसका कोई मतलब नहीं है। भारत का मतलब सिर्फ दिल्ली नहीं है और न ही बिहार का मतलब पटना है? मैं मंत्री से बात करूंगा। विरोध करने वालों को बताना चाहिए कि आखिर पति-पत्नी और कांग्रेस के शासन में इस अस्पताल का निर्माण क्यों नहीं हुआ?\' पति-पत्नी का आशय, लालू प्रसाद और राबड़ी देवी था।
 

कहा-तीन साल में बनेगा, 592 करोड़ होंगे खर्च
मुख्यमंत्री ने कहा-\'अस्पताल बनाने का फैसला अटलजी के समय का है। यह 3 साल में बनेगा। इसपर 591.77 करोड़ खर्च होंगे। केंद्र के 113.40 करोड़ तथा राज्य सरकार के 478.37 करोड़ खर्च होंगे। इससे सरायरंजन के आसपास के क्षेत्रों का भी विकास होगा। यह 500 बेड का होगा। हर साल 100 विद्यार्थियों का नामांकन होगा। धर्मशाला बनेगा, ताकि मरीजों के परिजनों को सहूलियत हो।\' उन्होंने श्रीराम जानकी मठ के संचालकों को 21 एकड़ जमीन देने के लिए बधाई दी। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने इसे देश का पहला अस्पताल कहा, जो भगवान श्रीराम व माता जानकी के नाम पर है। 

खबरें और भी हैं...