मुजफ्फरपुर / दो गुटों में विवाद; पुलिस से भिड़ंत, रोड़ेबाजी पर जवानों ने चटकाई लाठी, 7 युवक जख्मी



श्रमजीवी नगर में विवाद के बाद पहुंची पुलिस लोगों को समझाती हुई। श्रमजीवी नगर में विवाद के बाद पहुंची पुलिस लोगों को समझाती हुई।
X
श्रमजीवी नगर में विवाद के बाद पहुंची पुलिस लोगों को समझाती हुई।श्रमजीवी नगर में विवाद के बाद पहुंची पुलिस लोगों को समझाती हुई।

  • सरस्वती पूजा में डीजे बजाने के विवाद के बाद दो गुटों में चल रहा था तनाव 

Dainik Bhaskar

Feb 13, 2019, 10:35 AM IST

मुजफ्फरपुर.  सदर थाने के श्रमजीवी नगर में मंगलवार को दो गुटों में झड़प हो गई। आमने-सामने आए दोनों तरफ के युवकों ने जमकर रोड़ेबाजी की। इसमें दोनों तरफ के 6-7 युवक जख्मी हैं। सूचना पर पहुंची सदर थाने की पुलिस से भी स्थानीय लोग भिड़ गए। पुलिस जीप के चालक से बदसलूकी की अन्य पुलिस कर्मियों से धक्का-मुक्की की। भीड़ को अनियंत्रित होता देख पुलिसकर्मी पीछे हटकर छिप गए। 

 

बवाल बढ़ने की सूचना पर नगर डीएसपी मुकुल रंजन, एसडीओ पूर्वी डॉ. कुंदन कुमार, सदर थानेदार सुनील रजक, काजी मोहम्मदपुर थानेदार मो. शुजाउद्दीन, क्यूआरटी प्रभारी आरपी गुप्ता दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे। अधिकारियों के सामने भी हंगामा कर रहे युवकों को पुलिस जवानों ने लाठी चटकाते हुए खदेड़ दिया। साथ ही दोनों पक्षों को शांति बनाए रखने की अपील अधिकारियों ने की। 

 

गौरतलब है कि डीजे बजाने के दौरान दो दिन पहले हुई भिड़ंत के कारण युवकों के दो गुटों में तनातनी चल रही थी। उसी को लेकर दोनों पक्ष भिड़ गए। दोनों ओर से सदर थाने में मारपीट व लूटपाट करने का आरोप लगाते हुए सदर थाने में एफआईआर के लिए आवेदन दिया है। नगर डीएसपी को मौके पर बताया गया कि एक पक्ष के अनुभव कुमार ने थाना में आवेदन देकर बताया था कि शिव मंदिर के पास एक दस वर्ष का लड़का सिगरेट पी रहा था। उसे मना करने पर 10 फरवरी की रात करीब साढ़े 10 बजे होटल के सामने मुन्नू पासवान, अमित कुमार, और 5-6 युवकों ने मारपीट की थी। 

अनुभव ने आरोप लगाया कि उसकी गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया और पॉकेट से 4500 रुपए व गले से चेन छीन ली। इस घटना के बाद ही दोनों ओर से तनातनी थी। थाने में अनुभव के द्वारा आवेदन दिए जाने के बावजूद छानबीन के लिए पुलिस नहीं पहुंची। दूसरे पक्ष के युवकों ने आरोप लगाया है कि डीजे बजाने से रोका गया तो मारपीट की गई और जातिसूचक शब्द से अपमानित किया गया। 

 

मोहल्ले में पहले भी हो चुकी है फायरिंग 
मोहल्ला के लोगों ने बताया कि इन दिनों शहर में एक अश्लील भोजपुरी गीत में जाति सूचक शब्द का प्रयोग किया गया है। इसी गीत को लेकर दूसरे गुट ने विरोध किया। श्रमजीवी नगर में पहले भी छोटी-छोटी बातों पर दोनों गुट अकसर विवाद होता रहा है। छह माह पहले इस मोहल्ला में बाइक सवार युवकों ने फायरिंग भी की थी। पुलिस ने खोखा जब्त किया था। 

 

एक ही पक्ष के युवकों के दो गुटों में मारपीट हुई है। दोनों पक्षों को समझाकर शांति बना दी गई है। दोनों ओर से थाने में आवेदन दिया गया है। एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। -मुकुल रंजन, नगर डीएसपी 

COMMENT