--Advertisement--

भ्रष्टाचार / घर में नहीं, खाली खेतों में बना दिए टॉयलेट, नवंबर 2019 तक जिले को करना है ओडीएफ



मुरौल के मोहम्मदपुर चौर में इस तरह लावारिस शौचालय बना कर छोड़ दिया गया है, जिसका कोई इस्तेमाल नहीं करता। मुरौल के मोहम्मदपुर चौर में इस तरह लावारिस शौचालय बना कर छोड़ दिया गया है, जिसका कोई इस्तेमाल नहीं करता।
X
मुरौल के मोहम्मदपुर चौर में इस तरह लावारिस शौचालय बना कर छोड़ दिया गया है, जिसका कोई इस्तेमाल नहीं करता।मुरौल के मोहम्मदपुर चौर में इस तरह लावारिस शौचालय बना कर छोड़ दिया गया है, जिसका कोई इस्तेमाल नहीं करता।

  • 65.55%घरों में ही टॉयलेट का हो सका है निर्माण 
  • 34.45%घरों में अभी बाकी है टॉयलेट का निर्माण 

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 02:08 PM IST

मुजफ्फरपुर.  खुले में शौच से मुक्त करने के लिए बनाए जा रहे शौचालय में अजब भ्रष्टाचार सामने आया है। आलम ये है कि कई स्थानों पर खाली खेतों में शौचालय बना दिए गए हैं। जबकि, घरों व आसपास निर्माण करना है। 

 

अब सवाल खड़े हो रहे हैं कि इस तरह राशि की बंदरबांट कैसे हो रही है? स्थिति यह है कि मार्च के बदले नवंबर 2019 तक मुजफ्फरपुर जिला ओडीएफ हो सकेगा। अब तक 65.55% घरों में ही टॉयलेट का निर्माण हो सका है।

 

6.84 लाख घरों में टॉयलेट बनाने का लक्ष्य है, जिसमें अभी 34.45% बाकी है। यानी अभी 2.36 लाख घरों में शौचालय बनना है। 2 अक्टूबर 2017 के बाद 47.75% घरों में शौचालय बनाए गए हैं।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..