पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जंक्शन पर सीढ़ी से सटा पोल खतरनाक

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जंक्शन के तीन-चार नंबर प्लेटफॉर्म स्थित पूर्वी एफओबी की सीढ़ी से सटा बिजली का पोल कभी भी बड़े हादसे का सवब बन सकता है। लंबी दूरी की ट्रेनों के आने के बाद भीड़ उमड़ने पर कई बार यात्री इस पोल से टकरा जाते हैं। कई बार यात्री जख्मी भी हो जाते हैं।

डीआरएम भी निरीक्षण के क्रम में इस बिजली पोल को हटाए जाने का निर्देश दे चुके हैं। लेकिन अब तक इसे हटाया नहीं गया है। बता दें कि 10 जून 2015 को जंक्शन के प्लेटफॉर्म संख्या-3 व 4 पर ओएचई अपराइट संख्या 5021 में अचानक करंट आ गया था। जिससे गाड़ी के इंतजार में पोल के पास बैठे 12 यात्री झुलस गए थे। इलाज के दौरान वैशाली जिले के देसरी थाना के पहाड़पुर तोड़ निवासी महेश कुमार महतो की मौत हो गई थी।

जांच कमेटी ने चार को पाया था दोषी, पोल को हटाने की अनुशंसा की थी : पोल में करंट आने के मामले में संयुक्त जांच कमेटी ने 12 जून को जांच की थी। इसमें चार अधिकारियों को दोषी पाया था। संयुक्त जांच कमेटी ने इन अधिकारियों पर अनुशासनिक कार्रवाई किए जाने की अनुशंसा भी की थी। वहीं भविष्य में ऐसी घटना की पुनरावृति नहीं हो, इसके लिए इस पोल को हटाने के साथ कई अन्य निर्देश भी दिए थे।

डीआरएम व संयुक्त जांच कमेटी के निर्देश पर भी पोल को नहीं हटाया गया

जेसीबी के आम्रपाली एक्स से टकराने के मामले की हुई जांच
मुजफ्फरपुर | भगवानपुर के समीप बुधवार को जेसीबी के आम्रपाली एक्सप्रेस से टकराने के मामले की गुरुवार को जांच हुई। जांच के बाद एक ज्वाइंट नोट तैयार कर मुख्यालय को भेजा गया। जांच के क्रम में अधिकारियों ने जेसीबी चालक और ठेकेदार से पूछताछ की, आखिर किसकी परमिशन से जेसीबी से ट्रैक किनारे मिट्टी कटाई हो रही थी। हालांकि जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं किया गया। बताया जाता है कि रिपोर्ट पर डीआरएम स्तर से कार्रवाई हो सकती है। इसमें आरपीएफ इंस्पेक्टर वीपी वर्मा, एसआई केके पासवान, पीडब्ल्यूआई समेत अन्य कई लोग शामिल थे।

प्लेटफॉर्म 3-4 के फुट ओवरब्रिज के मुहाने पर लगा पोल।

प्रियदर्शी राजीव ने नए स्टेशन अधीक्षक का कार्यभार संभाला
मुजफ्फरपुर | प्रियदर्शी राजीव ने गुरुवार को मुजफ्फरपुर जंक्शन के नए स्टेशन अधीक्षक के रूप में योगदान लिया। निवर्तमान एसएस एमके राय से उन्होंने पदभार ग्रहण किया। एमके राय शुक्रवार को सेवानिवृत हो रहे हैं। पदभार ग्रहण करने के बाद उन्होंने कहा कि सभी विभागों के कर्मचारियों व अन्य सहयोगियों के साथ समन्वय बनाकर काम को गति देंगे। यात्री सुविधा और जंक्शन से खुलने वाली ट्रेनों को समय से परिचालन कराने के लिए कटिबद्ध है। इधर, पदभार सौंपने के बाद निवर्तमान स्टेशन अधीक्षक एमके राय भावुक हो गए। कहा कि उनकी अल्प सेवा अवधि में ट्रेनों की लेटलतीफी में काफी सुधार हुआ। यात्री सुविधाओं में भी बढ़ोतरी हुई। मौके पर टीआई बीएन प्रसाद, आमोद कुमार आदि उपस्थित थे।

आरपीएफ जवानों को विशेष कमांडो की दी जाएगी ट्रेनिंग
सिटी रिपोर्टर | मुजफ्फरपुर

ट्रेनों व रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों की सुरक्षा व बेहतर ड्यूटी के लिए आरपीएफ जवानों को विशेष कमांडो कोर्स की ट्रेनिंग दी जाएगी। गुरुवार को हाजीपुर में आरपीएफ आईजी रविंद्र वर्मा ने क्राइम मीटिंग में सभी कमांडेंट को यह निर्देश दिए। कहा कि एसी व स्लीपर कोच में विशेष निगरानी एस्कॉर्ट पार्टी द्वारा किए जाने का निर्देश दिया। वहीं जनरल बोगियों की वीडियोग्राफी कराने को कहा। इससे नशाखुरानी और अपराध की घटनाओं पर अंकुश लगेगा। आईजी ने क्राइम कंट्रोल के लिए कई निर्देश जारी किया। यात्री सुरक्षा को विशेष महत्व देेने की बात कही।

समीक्षा करते हुए कहा कि संवेदनशील स्थलों पर अधिक बल की तैनाती सुनिश्चित करने को कहा। वहीं स्टेशनों पर अवैध लोगों व बेटिकट यात्रियों की धरपकड़ के लिए विशेष अभियान चलाकर रेलवे एक्ट के तहत कार्रवाई करने का निर्देश दिया। बैठक में सभी कमांडेंट समेत कई अधिकारी शामिल थे।

दो दिसंबर को दो घंटे देरी से खुलेगी बांद्रा एक्सप्रेस
मुजफ्फरपुर। जंक्शन से बांद्रा एक्सप्रेस 2 दिसंबर को दो घंटे देरी से खुलेगी। इस दिन पनियहवा पॉइंट पर 7 बजे से 1 बजे तक गोरखपुर में फ्रंट कारिडोर प्लान के कारण कई ट्रेनें रद्द की गई हैं। वहीं बांद्रा एक्सप्रेस के दो घंटे विलंब से खुलने का समय रखा गया है। गोरखपुर के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव ने बताया कि सीवान की ओर से आनेवाली 8 ट्रेनें रद्द की गई हैं। सीवान-गोरखपुर पैसेंजर, शाहजहांपुर-सीतापुर कैंट सवारी गाड़ी को रीशिड्यूल किया गया है।

खबरें और भी हैं...