एईएस प्रभावित परिवारों को सोशियो इकोनॉमी सर्वे के बाद आवास देने का लिया निर्णय : मुख्यमंत्री

Muzaffarpur News - नीतीश बोले- पीएम आवास योजना से छूटे हर परिवार को मिलेगा मकान, केंद्र को भेजी है सूची, देर न हो इसलिए राज्य सरकार ने...

Jan 16, 2020, 08:26 AM IST
Muzaffarpur News - decision to provide housing to aes affected families after socioeconomy survey chief minister
नीतीश बोले- पीएम आवास योजना से छूटे हर परिवार को मिलेगा मकान, केंद्र को भेजी है सूची, देर न हो इसलिए राज्य सरकार ने खुद घर देने का लिया फैसला


एईएस प्रभावित परिवारों को सोशियो इकोनॉमी सर्वे के बाद आवास देने का लिया निर्णय : मुख्यमंत्री

पटना|मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना से छूटे परिवारों के लिए राज्य सरकार मुख्यमंत्री आवास योजना से मकान बनवा रही है। छूटे परिवारों को मकान दिलाने के लिए उनका नाम फिर से भेजा गया। केंद्र से उन्हें सुविधाएं मिलेंगी लेकिन इसमें ज्यादा देर ना हो, इसके लिए हमलोगों ने उन लोगों को मुख्यमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत आवास उपलब्ध कराने के लिये काम शुरू किया है। बुधवार को मकर संक्रांति के मौके पर जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के घर पर चूड़ा-दही के भोज के बाद मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से कहा कि जिन लोगों का नाम छूट गया है, उनको आवास मिलना चाहिए था। मुजफ्फरपुर में एईएस से लोग प्रभावित हुए थे। हमलोगों ने वहां सोशियो इकोनॉमी सर्वे कराया था, जिसके आधार पर तय किया कि उस इलाके में हर परिवार को खासकर कांटी क्षेत्र में मुख्यमंत्री आवास योजना का लाभ देंगे। -पढ़ें पेज 6 भी

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के यहां भोज में सीएम व डिप्टी सीएम।

सीएए, एनआरसी, एनपीआर पर कहा-19 के बाद बोलेंगे

मुख्यमंत्री ने सीएए, एनआरसी और एनपीआर के सवालों को टालते हुए कहा कि आज मकर संक्रांति है। आज प्रेम और सद्भावना का भाव होता है। आज उन विषयों पर चर्चा नही होनी चाहिए, जिससे लगे कि लोगों की अलग-अलग राय है और झगड़े का माहौल हो। दही-चूड़ा का आनंद लीजिए, हम हर मुद्दे पर 19 जनवरी के बाद जवाब देंगे।

राजद विधायक फातमी पहुंचे जदयू के भोज में, बोले- बिहार में नीतीश सबसे बड़ा चेहरा

जदयू के भोज में पहुंचे राजद के विधायक फराज फातमी ने कहा कि बिहार में नीतीश कुमार से बड़ा कोई चेहरा नहीं है। नीतीश ही अगले विधानसभा चुनाव के बाद बिहार में सरकार बनाएंगे। उन्होंने एनआरसी के खिलाफ तेजस्वी यादव की यात्रा पर भी सवाल खड़े किए। कहा कि जब सरकार ने कह दिया है कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं होगा। फिर यात्रा-रैलियां क्यों?

मुख्यमंत्री से मिलीं लवली : जदयू के भोज में पूर्व सांसद लवली आनंद ने मुख्यमंत्री से मुलाकात की। लवली ने अभिवादन किया तो नीतीश ने भी उनका हाल-चाल पूछा। हालांकि इसके बीच दोनों के बीच कोई खास बातचीत नहीं हुई।

X
Muzaffarpur News - decision to provide housing to aes affected families after socioeconomy survey chief minister

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना