इंटर में 20 फीसदी अधिक ऑब्जेक्टिव से बेहतर हुआ जिले का रिजल्ट

Muzaffarpur News - इंटर परीक्षा के परिणाम में जिले का रिजल्ट पिछले वर्ष की तुलना में बेहतर हुआ है। बताया जा रहा है कि गत वर्ष की...

Mar 27, 2020, 07:40 AM IST

इंटर परीक्षा के परिणाम में जिले का रिजल्ट पिछले वर्ष की तुलना में बेहतर हुआ है। बताया जा रहा है कि गत वर्ष की अपेक्षा सफलता प्रतिशत में लगभग 2 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। इसका कारण बोर्ड की परीक्षा में पहली बार 20 फीसदी एक्सट्रा ऑब्जेक्टिव प्रश्नों को शामिल करना बताया जा रहा है। अधिक सवाल शामिल करने से छात्रों को प्रश्नों का उत्तर देने का अधिक विकल्प दिया गया। इससे उन्हें काफी सहूलियत हुई। वहीं बोर्ड की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया है कि लघु उत्तरीय प्रश्नों में भी 75 फीसदी अतिरिक्त विकल्प दिए गए। यही स्थिति दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों को लेकर भी था। दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों में 100 फीसदी अधिक का विकल्प मिला। इससे सफलता का प्रतिशत बढ़ा है। शिक्षक डॉ. महेंद्र कुमार ने बताया कि परीक्षा में प्रश्नों का अधिक विकल्प मिलने से छात्र-छात्राओं को फायदा होता है। इस रिजल्ट में भी यह देखा गया है। उन्होंने कहा कि उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन को लेकर भी मूल्यांकन में उदारता बरती गई। स्टेपवाईज मार्किंग स्कीम लागू की गई थी। बोर्ड का स्पष्ट निर्देश था कि अगर छात्र ने सही और अच्छा उत्तर लिखा है तो उसे पूरे अंक दिए जाएं।

विद्या एजुकेशन के 204 छात्र-छात्राओं ने इंटरमीडिएट विज्ञान परीक्षा में हासिल किए 80 फीसदी से अधिक अंक

पटना|विद्या एजुकेशन के 204 छात्र-छात्राओं ने इंटर विज्ञान की परीक्षा में 80 प्रतिशत से ज्यादा अंक हासिल किया। शशि राज ने 500 में 456 अंक, शिखा कुमारी ने गणित में 100 में 99 अंक और भारती ने 500 में 436 अंक प्राप्त किया है। धर्मेंद्र कुमार ने 436, त्रिभुवन कुमार ने 445, गौतम कुमार ने 400, आकाश कुमार ने 405, सनी कुमार ने 425, अंकित कुमार एवं ऋषि राज गुप्ता ने 420 और शिखा कुमारी एवं ब्यूटी कुमारी ने 427 अंक प्राप्त किया। संस्थान के प्रबंध निदेशक राहुल चंद्र, अफरोज आलम, सत्येंद्र कुमार, आशुतोष आनंद सहित सभी शिक्षकों ने सफल छात्र-छात्राओं को बधाई दी।

का विकल्प मिला। इससे सफलता का प्रतिशत बढ़ा है। शिक्षक डॉ. महेंद्र कुमार ने बताया कि परीक्षा में प्रश्नों का अधिक विकल्प मिलने से छात्र-छात्राओं को फायदा होता है। इस रिजल्ट में भी यह देखा गया है। उन्होंने कहा कि उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन को लेकर भी मूल्यांकन में उदारता बरती गई। स्टेपवाईज मार्किंग स्कीम लागू की गई थी। बोर्ड का स्पष्ट निर्देश था कि अगर छात्र ने सही और अच्छा उत्तर लिखा है तो उसे पूरे अंक दिए जाएं।

अंजलि मिश्रा साइंस, 424 अंक

दीक्षा कुमारी काॅमर्स,355 अंक

काजल कुमारी काॅमर्स, 377 अंक

नवनीत कुमार साइंस, 372 अंक

अाकाश कुमार साइंस, 399 अंक

गौरव कुमार साइंस,405 अंक

कृष्णा कुमार साइंस, 356 अंक

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना