एसकेएमसीएच में जल्द खुलेगा चार बेड का डे केयर सेंटर

Muzaffarpur News - एसकेएमसीएच में चार बेड का डे केयर सेंटर जल्द ही खोला जाएगा। डे केयर सेंटर में थैलेसीमिया, हिमोफीलिया,...

Feb 15, 2020, 08:51 AM IST

एसकेएमसीएच में चार बेड का डे केयर सेंटर जल्द ही खोला जाएगा। डे केयर सेंटर में थैलेसीमिया, हिमोफीलिया, हिमोग्लोबिनपैथिक जैसी बीमारियों से पीड़ित मरीजों का इलाज किया जाएगा। अस्पताल अधीक्षक डॉ. सुनील कुमार शाही ने बताया कि डे केयर सेंटर में थैलेसीमिया के मरीजों को ब्लड चढ़ाया जाएगा। अस्पताल के जनरल वार्ड में थैलेसीमिया के मरीजों को ब्लड चढ़ाने में काफी दिक्कत होती थी। इसलिए अस्पताल में यह सुविधा शुरू की जा रही है। अस्पताल में थैलेसीमिया के प्रतिदिन चार से पांच मरीज आते हैं। बीएमएसआईसीएल के आर्किटेक्चर ने शुक्रवार को थैलेसीमिया वार्ड के लिए जगह का चयनित किया।

यह ब्लड बैंक के ऊपर बनेगा। जो फैब्रिकेटेड होगा। लगभग दो माह में अस्पताल बन कर तैयार हो जाएगा। पटना के बाद मुजफ्फरपुर में यह दूसरा सेंटर होगा। यहां ट्रेंड डाॅक्टराें और नर्सों की तैनाती हाेगी। एक छत के नीचे चिकित्सा संबंधी सारी सुविधाएं मिलने लगेंगी। इससे पहले शिशु विभाग के चिकित्सकाें और नर्सों को ट्रेनिंग कराई जाएगी। शिशु विभाग के डॉ. गोपाल शंकर सहनी के मुताबिक, थैलेसीमिया के मरीज को हर महीने खून चढ़ाने की जरूरत होती है। थैलेसीमिया का इलाज अब बोनमैरो ट्रांसप्लांट के जरिए संभव हो गया है। लेकिन, राज्य के किसी सरकारी अस्पताल में बोनमैरो ट्रांसप्लांट की सुविधा नहीं है।

समाहरणालय में अाज एईएस-जेई काेर कमेटी की हाेगी बैठक

मुजफ्फरपुर | समाहरणालय सभा कक्ष में शनिवार काे डीएम की अध्यक्षता में एईएस-जेई काेर कमेटी की बैठक हाेगी। बैठक में शामिल हाेने के लिए अलग-अलग 26 विभागाें के पदाधिकारियाें काे सूचित किया गया है। सिविल सर्जन डॉ. शैलेश प्रसाद सिंह ने बताया कि बैठक काे लेकर तैयारी पूरी कर ली गई है। वहीं एईएस से मृत बच्चाें के अभिभावकाें काे मुख्यमंत्री राहत काेष से अनुदान की राशि भुगतान करने के लिए छह बच्चाें के मामले में जांच की प्रक्रिया पूरी हाे गई है। इस संदर्भ में जिला वेक्टर जनित राेग नियंत्रण पदाधिकारी ने सिविल सर्जन काे जांच प्रतिवेदन साैंप दिया है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना