पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दामोदरपुर में डीजे बजाने काे लेकर दाे पक्षाें में भिड़ंत बाइक फूंकी, पुलिस-पब्लिक में राेड़ेबाजी-लाठीचार्ज

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
क्राइम रिपाेर्टर | कांटी/मुजफ्फरपुर

अंतिम साेमवारी काे डीजे बजाने काे लेकर साेमवार की सुबह दामाेदरपुर ईदगाह चाैक के निकट दाे पक्षाें में भिड़ंत हाे गई। एक पक्ष की अाेर से डीजे काे क्षतिग्रस्त करने व जल लेकर लाैट रहे लाेगाें के साथ मारपीट के बाद भड़के लाेगाें ने राहगीराें काे दाैड़ा-दाैड़ा कर पीटा। बाइक सवार दंपती के साथ मारपीट करते हुए बाइक भी फूंक दी। स्थिति बिगड़ने की सूचना पर डीएम-एसएसपी भारी पुलिस बल के साथ माैके पर पहुुंचे। इसके बावजूद स्थिति तेजी से िबगड़ती चली गई। एक पक्ष के उग्र लाेग पुलिस से भिड़ गए अाैर जमकर राेड़ेबाजी की। पथराव में सिटी एसपी, एडिशनल एसपी समेत दर्जन भर पुलिस कर्मी चाेटिल हुए। जवाब में पुलिस की अाेर से की गई लाठीचार्ज में कर्ई जख्मी हुए। मामले की गंभीरता काे देखते हुए तिरहुत प्रमंडल के कमिश्नर नर्मदेश्वर लाल, अाईजी गणेश कुमार, डीअाईजी रवींद्र कुमार, डीएम अालाेक रंजन घाेष, एसएसपी मनाेज कुमार घंटाें माैके पर कैंप करते रहे। वैशाली सांसद वीणा देवी, एमएलसी दिनेश सिंह व पूर्व मंत्री ई. अजीत कुमार भी जमे रहे। पूरे इलाके में धारा 144 लागू करते हुए मजिस्ट्रेट व फाेर्स की तैनाती कर दी गई है।

पूर्व मंत्री ने कहा-देखिए, अाईजी साहब एकतरफा कार्रवाई हाे रही है : पुलिस ने लाठीचार्ज के बाद कई लड़काें काे हिरासत में ले लिया। सुबह से ही माैके पर माैजूद पूर्व मंत्री ई. अजीत कुमार प्रशासनिक अधिकारियाें से भिड़ गए। गिरफ्तारी से नाराज पूर्व मंत्री ने अाईजी से कहा-एकतरफा गिरफ्तारी हाे रही है। इससे स्थिति अाैर िबगड़ेगी। हम लाेगाें काे स्थिति नाॅर्मल करने के लिए बुलाया गया। डीएम व सिटी एसपी काे भी खुले ताैर पर पूर्व मंत्री ने गिरफ्तारी काे लेकर स्थिति िबगड़ने की चेतावनी दी। हालांकि, बाद में एसएसपी के हस्तक्षेप पर हिरासत में लिये गए तीन युवकाें काे मुक्त कर दिया गया। -पढ़ें पेज 8 भी

कमिश्नर, अाईजी, डीअाईजी, डीएम, एसएसपी समेत जिले भर के पुलिस अाॅफिसर माैके पर पहुंचे
2घंटे तक पुलिस-पब्लिक में हुई भिड़ंत

6घंटे तक मुजफ्फरपुर-देवरिया राेड रहा बंद

7पर अफवाह फैलाने काे लेकर हाेगी प्राथमिकी

4अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज हाेगी पूरे मामले में

12 स्थानों पर मजिस्ट्रेट अाैर फाेर्स तैनात

6पेट्रोलिंग टीम की दामोदरपुर में तैनाती

पुलिस के सामने ही राहगीरों के साथ की मारपीट
कांटी के शुभंकरपुर के लाेग बड़ी संख्या में संगम घाट से जल लेकर जलाभिषेक करने अा रहे थे। दामाेदरपुर ईदगाह चाैक पर सुबह करीब अाठ बजे डीजे की तेज अावाज काे लेकर दो पक्षाें में विवाद हाे गया। अाराेप है कि डीजे गाड़ी के ड्राइवर व उस पर सवार शुभम समेत अाधा दर्जन लाेगाें काे मारपीट कर गंभीर रूप से जख्मी कर दिया गया। घटना की जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में चकमुरमुर के पास मुजफ्फरपुर-देवरिया राेड पर लाेग पहुंच गए अाैर राहगीराें के साथ मारपीट करने लगे। सड़क पर उतरे लाेगाें ने एक दंपती की बाइक फूंक डाली। कांटी पुलिस की काेई सुनने काे तैयार नहीं था। बाद में डीएम, एसएसपी, सिटी एसपी ने माैके पर पहुंच कर माेर्चा संभाला। हरवे-हथियार से लैस बड़ी संख्या में लाेग बवाल करते रहे। पुलिस के साथ लाेगाें ने धक्का-मुक्की शुरू कर दी। पुलिस ने भी लाठीचार्ज किया। फिर पब्लिक की अाेर से राेड़ेबाजी हाेने लगी। सिटी एसपी नीरज कुमार सिंह, एडिशनल एसपी विमलेश चंद्र झा व टाउन डीएसपी के अंगरक्षक के चाेटिल हाेने के बाद पुलिसकर्मियाें ने भी राेड़ेबाजी शुरू कर दी।

दामोदरपुर में बवाल के दौरान उपद्रवियों को खदेड़ते जवान।

इंटरनेट बंद करने की अनुशंसा कर सकता है प्रशासन
घटना काे लेकर जिस तेजी से सोशल मीडिया व अन्य साइट पर फाेटाे वायरल करने के साथ आपत्तिजनक प्रतिक्रिया अाई है, इसे देखते हुए प्रशासन इंटरनेट सेवा बंद करने की अनुशंसा कर सकता है। एसएसपी ऑफिस में तैनात डीअाईयू ने वाॅट्सअपग्रुप काे चिह्नित कर ग्रुप एडमिन काे चेतावनी दी। कई ग्रुप रात में ही डिलीट कर दिए गए। एसएसपी मनाेज कुमार ने सेंट्रल रैफ व आईजी रिजर्व पुलिस की तैनाती की डिमांड की।

दामाेदरपुर में रोड़ेबाजी कर रहे उपद्रवियों को चेतावनी देता पुलिस का जवान।

पल-पल की जानकारी लेता रहा सीएम हाउस
मुजफ्फरपुर में दाे पक्षाें में तनाव की सूचना के बाद सीएम हाउस पल-पल की जानकारी लेता रहा। सीएम हाउस की सूचना पर एमएलसी दिनेश सिंह काे माैके पर भेजा गया। स्थिति नाॅर्मल हाेने के बाद कमिश्नर, अाईजी, डीअाईजी के लाैटने के बाद एमएलसी भी लाैटे। रास्ते से फिर एमएलसी काे लाैट कर माैके पर पहुंचने का फरमान जारी हुअा। अाईजी व स्पेशल ब्रांच के अाॅफिसर भी माैके पर जमे रहे। दोपहर में पटना से सेंट्रल रैफ की टीम अाैर आईजी रिजर्व पुलिस पहुंची।

दाे पक्षाें में विवाद के बाद मैंने खुद माैके पर पहुंच कर स्थिति का जायजा जिया। पर्याप्त संख्या में फाेर्स व मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। असामाजिक तत्वाें की पहचान कर गिरफ्तारी का अादेश दिया गया है। -गणेश कुमार, जाेनल अाईजी

खबरें और भी हैं...