• Hindi News
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Muzaffarpur News in the audit of technical education quality improvement program 3 mi best surpassed 7 colleges bhagalpur engineering college in second place

टेक्निकल एजुकेशन क्वालिटी इंप्रूवमेंट प्रोग्राम-3 के ऑडिट में 7 कॉलेजों को पीछे छोड़ एमआई बेस्ट, दूसरे स्थान पर भागलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज

Muzaffarpur News - एजुकेशन रिपोर्टर|मुजफ्फरपुर सूबे के 7 इंजीनियरिंग कॉलेजों में संचालित होने वाले टीईक्यूआईपी-3 (टेक्निकल...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 08:52 AM IST
Muzaffarpur News - in the audit of technical education quality improvement program 3 mi best surpassed 7 colleges bhagalpur engineering college in second place
एजुकेशन रिपोर्टर|मुजफ्फरपुर

सूबे के 7 इंजीनियरिंग कॉलेजों में संचालित होने वाले टीईक्यूआईपी-3 (टेक्निकल एजुकेशन क्वालिटी इंप्रूवमेंट प्रोग्राम) के लिए हुए अॉडिट में एमआईटी को बेस्ट ग्रेड हासिल हुआ है। बाकी कॉलेजों को भी बेहतर ग्रेड मिला है, लेकिन वे एमआईटी से पीछे हैं। मॉनिटरिंग एंड प्रोजेक्ट आउटकम पैरामीटर्स के तहत हुए 7 मानकों पर संस्थान को 1.12 स्कोर हासिल हुआ है। वहीं एमआईटी के सबसे करीब भागलपुर कॉलेज अॉफ इंजीनियरिंग है। इसे 1.22 का स्कोर हासिल हुआ है। तीसरे स्थान पर दरभंगा कॉलेज अॉफ इंजीनियरिंग है, इसे 1.29 का स्कोर मिला है। एमआईटी के प्राचार्य डॉ. जेएन झा ने बताया कि संस्थान को 1.12 का स्कोर मिला है। इसे बेहतर माना जाता है। अगर संस्थान को 3 का स्कोर आता है तो इसका खराब के रूप में आकलन किया जाता है। सभी कॉलेजों की ऑडिट रिपोर्ट में एमआईटी सबसे आगे है। जिस कॉलेज को एक के करीब स्कोर मिलता है, उसे बेहतर माना जाता है। प्राचार्य ने बताया कि इससे कॉलेज में सुविधा बढ़ेगी। उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी एमआईटी का चयन हाई परफॉर्मिंग इंस्टीट्यूट के रूप में किया गया है। इससे संस्थान को 2 करोड़ रुपए अतिरिक्त मिलेंगे। पिछले दिनों सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों की अॉडिट कराई गई थी।

ये होंगे फायदे | कॉलेज में छात्र-छात्राओं के लिए पठन-पाठन की सुविधाएं बढ़ेंगी बेहतर रैंकिंग होने से प्लेसमेंट में भी होगा फायदा।

पीएचडी एनरॉलमेंट, ऑटोनॉमी और फीमेल फैकल्टी में मिले कम पाॅइंट | संस्थान को पीएचडी एनरॉलमेंट, अॉटोनोमी, महिला शिक्षकों, छात्राओं की संख्या में कम अंक मिले हैं। एमआईटी से किसी भी विषय में फिलहाल पीएचडी नहीं कराई जा रही है। वहीं ऑटोनॉमी भी इसे हासिल नहीं हुई। महिला शिक्षकों से लेकर छात्राओं के नामांकन में कॉलेज के जिम्मे कुछ भी नहीं है।

इन मानकों पर परखा गया एमआईटी

इफेक्टिवनेस अाॅफ फंड्स यूटिलाइज्ड फॉर द टीचिंग, लर्निंग, ट्रेनिंग एंड रिसर्च इक्विपमेंट इंप्रूवमेंट इन टीचिंग, लर्निंग एंड रिसर्च, इंप्लीमेंटेशन अाॅफ एआईसीटीई मैंडेट, इफेक्टिवनेस अाॅफ क्वालिटी एट इंस्टीट्यूशनल लेवल, इम्प्रूव्ड सिस्टम इफीसिएंसी, ट्विनिंग एक्टिविटीज।

सूबे के इंजीनियरिंग कॉलेजों का टीईक्यूआईपी -3 के अॉडिट में प्रदर्शन

मुजफ्फरपुर इंस्टीट्यूट अाॅफ

टेक्नोलॉजी- 1.12

बीसीई, भागलपुर - 1.22

एमसीई, मोतिहारी - 1.39

डीसीई, दरभंगा - 1.29

नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज - 1.29

लोकनायक जयप्रकाश इंस्टीट्यूट अाॅफ टेक्नोलॉजी, छपरा - 1.33

गया इंजीनियरिंग कॉलेज - 1.37

X
Muzaffarpur News - in the audit of technical education quality improvement program 3 mi best surpassed 7 colleges bhagalpur engineering college in second place
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना