घने कुहासे में हादसे रोकने को ट्रेनों में लगेंगे 1630 फाॅग सेफ डिवाइस, 130 के बजाय 75 किमी स्पीड से दौड़ेंगी

Muzaffarpur News - सिटी रिपाेर्टर | मुजफ्फरपुर घने कुहासे के दौरान दुर्घटनाएं रोकने को लेकर पूर्व मध्य रेलवे ट्रेनों की स्पीड...

Dec 04, 2019, 08:21 AM IST
Muzaffarpur News - in the thick fog trains will put 1630 fog safe devices to run at 75 km speed instead of 130
सिटी रिपाेर्टर | मुजफ्फरपुर

घने कुहासे के दौरान दुर्घटनाएं रोकने को लेकर पूर्व मध्य रेलवे ट्रेनों की स्पीड नियंत्रित करने के साथ ट्रेनों में 1630 फाॅग सेफ डिवाइस लगाएगा। कुहासे के दौरान ट्रेनों को 130 किमी स्पीड के बजाय 75 किमी में ही चलाने का निर्देश दिया गया है। इसके अलावा सिग्नल की पहचान के लिए भी कई कार्य किए जा रहे हैं। फाॅग सेफ डिवाइस एक जीपीएस अाधारित एक उपकरण है ताे लाेकाेपायलट काे अागे अाने वाले सिग्नल की चेतावनी देता है। इससे लाेकाे पायलट ट्रेन की स्पीड नियंत्रित कर लेते हैं। सीपीअारअाे राजेश कुमार ने बताया कि फाॅग डिवाइस लगाने से काफी सकारात्मक परिणाम अाए हैं। इसके अलावा फाॅग मैन की भी तैनाती की जाएगी। ये काेहरे में सिग्नल की स्थिति की निगरानी करेंगे। ठंड से रेल पटरियों के टूटने की संभावना से बचने के लिए भी पेट्राेलिंग टीम गठित की गई है। सीपीअारअाे ने बताया कि सिग्नलाें की दृश्यता काे बढ़ाने के लिए सिग्नल साइटिंग बाेर्ड, फाॅग सिग्नल पाेस्ट के अलावा अधिक ट्रैफिक वाले गुमटियाें के लिफ्टिंग बैरियर काे एक विशेष रंग काला व पीला से रंगकर चमकीला बनाया जा रहा है। वहीं, सिग्नल के पास चूने से निशान बनाया जा रहा है। स्टाॅप सिग्नल से पहले एक विशेष चिह्न सिगमा शेप्स बनाया जा रहा है। लाेकाे पायलट काे प्रत्येक स्टेशनाें के फर्स्ट स्टाॅप सिग्नल लाेकेशन, किमी चार्ट भी उपलब्ध कराया जाएगा। इसके प्रयाेग से लाेकाेपायलट यह सुनिश्चित कर पाएंगे कि अागे कितनी दूरी पर ट्रेन काे राेकना है। वहीं, सभी लाेकाेपायलट व स्टेशन मास्टराें काे प्रतिदिन कुहासे की स्थिति की जानकारी कंट्राेल काे अपडेट कराने और लगातार हाॅर्न बजाने का निर्देश दिया गया है।

सीपीअारअाे ने कहा- इस डिवाइस से काफी सकारात्मक परिणाम अाए, फाॅग मैन की भी होगी तैनाती

जंक्शन पर पवन एक्सप्रेस मंे चढ़ने के लिए उमड़ पड़े यात्री।

इधर, इलेक्ट्रिक इंजन का लाेकाे पायलट नहीं हाेने से फंसीं रहीं मालगाड़ियां, 8 घंटे देरी से खुली बांद्रा एक्सप्रेस, पवन में हंगामा

मुजफ्फरपुर |इलेक्ट्रिक इंजन का लाेकाे पालयट नहीं हाेने से मंगलवार काे दर्जन भर मालगाड़ियां जंक्शन व नारायणपुर अनंत के यार्ड में फंसीं रहीं। चार-पांच घंटे तक फंसे रहने के बाद समस्तीपुर से लाेकाे पायलट के अाने पर इन मालगाड़ियाें काे एक-एक कर रवाना किया गया। बताया जाता है कि जंक्शन के यार्ड से जाने वाले 8 अाैर नारायणपुर अनंत यार्ड से जाने वाली 4 मालगाड़ी को चलाने के लिए लाेकाे पायलट नहीं था। इस कारण ये 4 से 5 घंटे तक फंसीं रहीं। इधर, जंक्शन से लाेकमान्य तिलक जाने वाली बांद्रा एक्सप्रेस मंगलवार काे अाठ घंटे देरी से खुली। इसको लेकर यात्रियाें ने जंक्शन पर हंगामा किया। उधर पवन एक्सप्रेस समेत कई अन्य ट्रेनों में भी भारी भीड़ से यात्री लटक कर गए। यात्रियाें ने अाराेप लगाया कि रेलकर्मियाें की लापरवाही से परेशानी होती है।

पवन एक्सप्रेस की बोगी में इस तरह ठुंस कर गए यात्री।

Muzaffarpur News - in the thick fog trains will put 1630 fog safe devices to run at 75 km speed instead of 130
X
Muzaffarpur News - in the thick fog trains will put 1630 fog safe devices to run at 75 km speed instead of 130
Muzaffarpur News - in the thick fog trains will put 1630 fog safe devices to run at 75 km speed instead of 130
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना