• Hindi News
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Muzaffarpur News kishariaians sitting on the chair of assistant director said now the wandering children will work for the good

सहायक निदेशक की कुर्सी पर बैठी किशाेरियाें ने कहा- अब भटके बच्चाें की भलाई का काम करेंगी

Muzaffarpur News - इंटरनेशनल गर्ल्स डे पर शुक्रवार काे कलेक्ट्रेट स्थित बाल संरक्षण इकाई कार्यालय में सहायक निदेशक की कुर्सी पर...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 08:26 AM IST
Muzaffarpur News - kishariaians sitting on the chair of assistant director said now the wandering children will work for the good
इंटरनेशनल गर्ल्स डे पर शुक्रवार काे कलेक्ट्रेट स्थित बाल संरक्षण इकाई कार्यालय में सहायक निदेशक की कुर्सी पर राधा-कृष्ण केडिया हाईस्कूल की दाे किशाेरियाें काे बताैर गेस्ट सहायक निदेशक बनाकर बैठाया गया। दाेनाें काे कार्यालय के काम-काज की जानकारी दी गई। गेस्ट सहायक निदेशक बनीं कुमारी निधि अाैर कनक ने भटके अाैर अनाथ बच्चाें की देखभाल वहां के अधिकारियाें व कर्मचारियाें द्वारा किए जाने के ताैर-तरीके, भटके बच्चाें की काउंसेलिंग कर उन्हें समाज की मुख्यधारा से लाने अादि की जब जानकारी दी गई ताे दाेनाें द्रवित हाे गईं। उन्हाेंने कहा कि उनका लक्ष्य अाईएएस बनकर समाज सेवा करने का था, लेकिन गेस्ट सहायक निदेशक की कुर्सी पर बैठकर अब मन बदल गया है। अब वे भटके व अनाथ बच्चाें के लिए काम करेंगी। निधि व कनक ने सहायक निदेशक व अन्य अधिकारियाें से कई सवाल भी पूछे। जिनका जवाब अधिकारियाें ने विस्तार से दिया। पर्यवेक्षण गृह में रहने वाले बच्चाें के बारे में जब एलपीअाे गुंजन कुमारी ने दाेनाें किशाेरियाें काे बताया कि चाहे ये बच्चे कितनी भी बड़ी घटना के अाराेप में यहां अाए हाें, लेकिन उन्हें किसी भी परिस्थिति में दाेषी नहीं माना जा सकता। उन्हें काउंसेलिंग के माध्यम से घर जैसा माहाैल देकर मन की स्थिति में बदलाव किया जाता है।

बाल संरक्षण इकाई कार्यालय में गेस्ट सहायक निदेशक बनीं किशोरियां।

भटके बच्चे की जानकारी 1098 पर देनी चाहिए

सहायक निदेशक उदय कुमार झा ने बच्चियाें काे बताया कि यदि काेई बच्चा लावारिश हालत में मिलता है या भटक जाता है ताे उसे इकाई के द्वारा हाेम में रखा जाता है। फिर पहचान हाेने पर उनके परिजनाें काे साैंप दिया जाता है। यदि काेई बच्चा किसी काे दिखे ताे 1098 पर काॅल कर जानकारी देनी चाहिए। दाेनाें किशाेरियाें से जब पूछा गया कि क्या इस काम के लिए उनका परिवार व समाज इजाजत देगा ताे उन्हाेंने कहा कि इस काम के लिए किसी काे ताे अाना हाेगा।

X
Muzaffarpur News - kishariaians sitting on the chair of assistant director said now the wandering children will work for the good
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना