चंडीगढ़-डिब्रूगढ़ एक्सप्रेस की एसएलअार बाेगी से सील ताेड़ कर सामान गिराते कुणाल गिरफ्तार

Muzaffarpur News - सिटी रिपाेर्टर | मुजफ्फरपुर चंडीगढ़-डिब्रूगढ़ एक्सप्रेस की एसएलअार बाेगी का सील ताेड़कर असम के लिए बुक कपड़े...

Oct 12, 2019, 08:20 AM IST
Muzaffarpur News - kunal arrested after sealing goods from chandigarh39s dibrugarh express with slaar bagi sealed
सिटी रिपाेर्टर | मुजफ्फरपुर

चंडीगढ़-डिब्रूगढ़ एक्सप्रेस की एसएलअार बाेगी का सील ताेड़कर असम के लिए बुक कपड़े की गांठ काे नीचे गिराते हुए कुख्यात कुणाल काे अारपीएफ ने पांडेय गली के समीप से गिरफ्तार कर लिया। छापेमारी में एसएलअार बाेगी से गिराए गए कपड़े की गांठ काे भी बरामद कर लिया गया। अारपीएफ इंस्पेक्टर वीपी वर्मा ने बताया कि सूचना मिली थी कि उक्त ट्रेन की सील ताेड़कर सामान लूटने के लिए कुणाल व उसके साथी इकट्ठे हुए हैं। सूचना के बाद एक टीम गठित कर रात 12 बजे से ही आरपीएफ टाेह में लगी रही। रात करीब डेढ़ बजे जंक्शन से ट्रेन खुलने पर कुख्यात कुणाल व उसके साथी ट्रेन में चढ़ गए। जैसे ही पांडेय गली के समीप से ट्रेन पास करने लगी, अपराधियों ने सील ताेड़कर कपड़े की 6 गांठ काे नीचे गिरा दिया। टीम ने मौके पर ही कुणाल को गिरफ्तार कर लिया। जबकि, अंधेरे का लाभ उठाकर उसके अन्य साथी फरार हाे गए। अारपीएफ इंस्पेक्टर ने बताया कि कुणाल की निशानदेही पर छापेमारी की जा रही है। वहीं, प्राथमिकी दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया।

कई थानों में दर्ज हैं मामले, एसएलआर बोगी से गिराया माल भी बरामद

कुख्यात कुणाल ने पूछताछ में बताया कि 2011 में कांटी के एक अपराधी के संपर्क में अाने के बाद वह रेलवे की एसएलअार बाेगी की सील ताेड़कर सामान लूटने लगा। लूटे हुए सामान काे तीनपाेखरिया स्थित एक व्यक्ति से अाधे दाम पर बेच देता है। वह 10 बार से अधिक जेल जा चुका है। उस पर 50 से अधिक मामले दर्ज हैं। दाे शादी की थी। एक में तलाक हाे चुका है। 6 माह में चाेरी से जाे कमाया है, वह केस लड़ने व शराब पीने में ही खर्च हाे जाता है।

अारपीएफ की गिरफ्त में शातिर चोर कुणाल।

पांडेय गली-माड़ीपुर ब्रिज है नाे रिस्क जाेन

पार्सल बाेगी लूटने के लिए पांडेय गली अाैर माड़ीपुर ब्रिज के समीप का इलाका इस गैंग के लिए नाे रिस्क जाेन है। दाेनाें जगहाें पर रात के अंधेरे में इस गैंग के सदस्य अासानी से सील ताेड़कर सामान लूट लेते हैं। दाेनाें स्थानाें पर अाउटर सिग्नल है, जहां स्टेशन पर अाने के दाैरान ट्रेनें अाउटर पर सिग्नल लाल हाेने के कारण रुकती हैं। जिसका फायदा उठाकर अपराधी लूटपाट करते है।

एक माह पहले कुर्की का चस्पाया था इश्तेहार

अारपीएफ ने एक माह पहले ही कुणाल की संपति की कुर्की के लिए उसके घर पर इश्तेहार चस्पा कर सरेंडर करने का दबाव बनाया था। बताया जाता है कि बहलखाना के रहने वाले कुख्यात कुणाल ने उसे गिरफ्तार करने वाले मिठनपुरा थाने के जवान रविंद्र कुमार के सिर पर पिस्टल सटाकर हत्या का प्रयास किया था। दूसरा कुख्यात अपराधी गुलशन मल्लिक अारपीएफ की पकड़ से अभी भी फरार है।

X
Muzaffarpur News - kunal arrested after sealing goods from chandigarh39s dibrugarh express with slaar bagi sealed
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना