• Hindi News
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Muzaffarpur News more than 50 thousand people travel from the junction daily for just one navigation for three important platforms

तीन महत्वपूर्ण प्लेटफॉर्मों के लिए महज एक शाैचालय, 50 हजार से अधिक लोग रोजाना जंक्शन से करते हैं यात्रा

Muzaffarpur News - शाैचालय नहीं हाेने से यात्रियाें काे हाेती है भारी परेशानी, बंद पड़े शाैचालय शुरू करने की नहीं हो रही...

Feb 15, 2020, 08:51 AM IST
शाैचालय नहीं हाेने से यात्रियाें काे हाेती है भारी परेशानी, बंद पड़े शाैचालय शुरू करने की नहीं हो रही पहल

जंक्शन के तीन महत्वपूर्ण प्लेटफॉर्म -1, 3 व 4 के लिए महज एक शाैचालय है। इससे हर दिन यहां अाने-जाने वाले करीब 50 हजार यात्रियाें काे भारी परेशानियाें का सामना करना पड़ता है। एक, तीन व चार नंबर जंक्शन का सबसे महत्वपूर्ण प्लेटफॉर्म है। अधिकतर ट्रेनें इन्हीं तीनाें प्लेटफॉर्म से खुलती और गुजरती हैं। लेकिन, तीनों प्लेटफॉर्म में से महज एक नंबर प्लेटफॉर्म पर ही एकमात्र शाैचालय है। इससे यात्रियाें को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यात्रियों से मनमाना शुल्क वसूलने की शिकायत भी सामने अाती रहती है। प्लेटफॉर्म पर शाैचालय नहीं हाेने के कारण यात्रियों को सर्कुलेटिंग एरिया से बाहर बने शाैचालय का इस्तेमाल शुल्क देकर करना पड़ता है। सबसे अधिक परेशानी महिलाअाें काे हाेती है। यूटीएस हाॅल में स्थित शाैचालय के ठेकेदार का काॅट्रैक्ट तीन माह पहले समाप्त हाे गया था। इसके बाद से यह बंद है। जबकि सर्कुलेटिंग एरिया में स्थित शाैचालय का गंदा पानी मुख्य सड़क पर बहने पर नगर निगम ने अापति जताई थी। इस कारण इसे बंद कर दिया गया। अब एक, तीन व चार नंबर प्लेटफॉर्म पर एक ही शाैचालय इस्तेमाल में है। जंक्शन के पश्चिम साइड में 6 नंबर प्लेटफॉर्म पर भी एक शाैचालय है, लेकिन दूरी अधिक हाेने अाैर उक्त प्लेटफॉर्म से सिर्फ पैसेंजर ट्रेनाें के खुलने के कारण यात्री उसका इस्तेमाल नहीं के बराबर करते हैं।

दिव्यांगाें के लिए बना शाैचालय भी नहीं हुअा शुरू

अाश्चर्य की बात ताे यह है कि तीन व चार नंबर प्लेटफॉर्म पर दिव्यांगाें के लिए एक शाैचालय बनाया गया। लेकिन, एक साल से अधिक बीत जाने के बाद भी इसे नहीं शुरू किया जा सका।


X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना