--Advertisement--

टी सेल में नक्सली के पास था फोन, कैदी वार्ड से चाकू और गांजा जब्त

आठ बंदियों के पास से मिले प्रतिबंधित सामान, सहायक जेल अधीक्षक के आवेदन पर दर्ज की गई एफआईआर।

Danik Bhaskar | Jul 03, 2018, 02:52 PM IST

मुजफ्फरपुर. गेट पर 500 रुपए दीजिए और कैदी को खाना पहुंचाने की आड़ में जेल में बंद नक्सली से लेकर कुख्यात अपराधियों को कुछ भी पहुंचा दिया जा रहा है। इस सूचना पर दंडाधिकारी और पुलिस टीम ने रविवार की रात तीन बजे जेल में छापेमारी की। मिठनपुरा थानेदार विजय प्रसाद राय ने बताया कि टी सेल संख्या एक में बंद नक्सली राहुल के पास से मोबाइल मिले हैं। इसके साथ ही बंदी रविंद्र सहनी के पास से दो पेन ड्राइव मिले हैं। वहीं अन्य कैदियों के पास से टीम ने दो चाकू, 100 ग्राम गांजा, पेन ड्राइव, चिप कार्ड, सिम कार्ड, गांजा काटने का तख्ती मिला है। इस मामले में जेल अधीक्षक के आवेदन पर 8 बंदियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

डीएम मो. सोहैल और एसएसपी हरप्रीत कौर के निर्देश पर इस छापेमारी के लिए बनी टीम ने एसडीओ पूर्वी कुंदन कुमार के नेतृत्व में चार डीएसपी, दो एएसपी,12 थानेदार सहित 150 पुलिस कर्मियों ने सभी वार्डों में एक साथ छापेमारी की। छापेमारी के दौरान प्रतिबंधित वस्तुओं के मिलने पर जब बंदियों से टीम ने पूछताछ की तो बताया गया कि रुपए देकर हर तरह के प्रतिबंधित सामान जेल गेट से लाया जाता है। बगैर रुपए के पानी का बोतल अंदर नहीं पहुंच सकता है।

जेल अधीक्षक ने एफआईआर में कहा है कि टी सेल संख्या एक में बंद देवरिया थाने के लखनउरी निवासी राहुल के पैंट के पॉकेट से मोबाइल मिला। उसने रात में 10 से अधिक नंबरों पर काफी देर तक बात की थी। कैदी वार्ड 19 के एक में बंद मधुबनी जिले के गंगा सागर निवासी बंदी बिरजू यादव के पास से 100 ग्राम गांजा, गांजा काटने वाला चाकू, तख्ती और टेकुआ मिला। कैदी वार्ड 16 के दो में दरभंगा के जमालपुर थाने के झगुआ निवासी मंटुन नदाफ से मोबाइल चार्जर मिला।

कैदी वार्ड 19 के एक सरैया थाने के बहिलवारा गोविंद गांव निवासी अखिलेश सहनी के झोला से सिम कार्ड, वार्ड 19 के तीन में बंद दरभंगा के घनश्यामपुर थाने के गनौण निवासी सुभाष झा के पास से मोबाइल चिप, वार्ड 19 के चार में बंद देवरिया थाने के बंगरा निवासी आलोक कुमार के पास से 3 हजार रुपए, वार्ड 16 के एक में बंद मीनापुर थाने के पुरैनिया निवासी रविंद्र सहनी के पास से दो पेन ड्राइव और वार्ड 18 के एक में बंद मोतीपुर थाने के माधोपुर निवासी बंदी राजेंद्र सहनी के पास से चाकू मिला।