छात्र-युवाओं में नेतृत्व पैदा करने के लिए व्यक्तित्व विकास जरूरी है, लेकिन किताबी ज्ञान के दौर में यह पीछे छूट रहा

Muzaffarpur News - एजुकेशन रिपोर्टर | मुजफ्फरपुर डॉ. अरुण कुमार सिंह ने कहा कि छात्र-युवाओं में नेतृत्व की क्षमता पैदा करने के लिए...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 04:17 AM IST
Muzaffarpur News - personality development is essential for the creation of leadership among students and youth
एजुकेशन रिपोर्टर | मुजफ्फरपुर

डॉ. अरुण कुमार सिंह ने कहा कि छात्र-युवाओं में नेतृत्व की क्षमता पैदा करने के लिए व्यक्तित्व का विकास जरूरी है लेकिन आज के किताबी ज्ञान के दौर में यह पीछे छूटते जा रहा है। चीजों को समझने की प्रवृति को विकसित करने के लिए गांधी शांति प्रतिष्ठान की ओर से छात्रों के बीच गांधी चर्चा का आयोजन किया जा रहा है। वे बुधवार को प्रतिष्ठान की ओर से संत जोसेफ सीनियर सेकेंडरी स्कूल में आयोजित छात्रों के बीच गांधी चर्चा में बोल रहे थे। डॉ. एमएन रिजवी ने कहा कि गांधी आज भी जिंदा हैं और आज भी उन्हें गोली मारी जा रही है। यह डर पैदा करने के लिए किया जा रहा है। डॉ. कृष्ण मोहन प्रसाद ने कहा कि सांप्रदायिकता धर्म ही नहीं बल्कि जातियों में भी विभाजन पैदा करती है। कार्यक्रम में पांचवीं से नवमी कक्षा तक के छात्र-छात्राओं ने गांधी विषयक प्रतियोगिताओं में अपनी भागीदारी प्रस्तुत की। प्रतिभागियों को जूनियर और सीनियर के दो समूहों में बांटा गया था। भाषण, काव्य-पाठ, निबंध और चित्रांकन सहित चार तरह की प्रतियोगिताएं शामिल थीं। सीनियर समूह की छात्राओं ने भाषण खंड में सांप्रदायिक सद्भाव- भारत की जरूरत और जूनियर समूह की लड़कियों ने गांधी की चंपारण-यात्रा विषय पर अपने विचार व्यक्त किए। काव्य-पाठ में जूनियर छात्राओं ने कवि गोपाल दास नीरज की मशहूर कविता लहू का रंग एक है, तो सीनियर समूह ने राष्ट्रकवि रामधारी सिंह ‘दिनकर’ की कालजयी कृति रश्मि रथी के एक अंश का पाठ किया। निबंध में सीनियर छात्राओं ने आज की चुनौतियां और गांधी तथा जूनियर समूह ने स्वाधीनता आंदोलन में गांधी की भूमिका पर कलम चलाई। चित्रांकन में जूनियर छात्राओं ने गांधीजी तो सीनियर समूह ने बा और बापू की मनोहारी तस्वीरें उकेरी। स्वागत एवं प्रतियोगिता का संचालन प्रतिष्ठान के सचिव अरविंद वरुण ने किया। उन्होंने इसके उद्देश्य से भी परिचित कराया। निर्णायक मंडल में गांधी शांति प्रतिष्ठान, मुजफ्फरपुर के अध्यक्ष डॉ. अरुण कुमार सिंह, कार्य समिति सदस्यगण डॉ. एमएन रिज़वी और डॉ. कृष्ण मोहन शामिल थे। संयोजन शिक्षिका निभा चंद्रा ने किया।

कार्यक्रम के दौरान उपस्थित अतिथि व अपने विचार रखती छात्रा। आयोजन के दौरान टेस्ट देते स्टूडेंट्स।

X
Muzaffarpur News - personality development is essential for the creation of leadership among students and youth
COMMENT