पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पुलिस अभिरक्षा में एसकेएमसीएच में भर्ती महिला बंदी से रेप का मामला दर्ज

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
क्राइम रिपोर्टर | मुजफ्फरपुर

सीतामढ़ी जेल की महिला बंदी से पुलिस अभिरक्षा में एसकेएमसीएच में हुए दुष्कर्म मामले में गुरुवार को अहियापुर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई। थानाध्यक्ष मनोज सिंह ने बताया कि सीतामढ़ी मंडल कारा अधीक्षक के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

मंडल कारा अधीक्षक ने अहियापुर पुलिस को बताया है कि 11 नवंबर को एक महिला बंदी की तबीयत बिगड़ने पर सीतामढ़ी सदर अस्पताल भेजा गया था। वहां डॉक्टर ने हालत गंभीर बताते हुए एसकेएमसीएच रेफर कर दिया। एसकेएमसीएच में पुलिस अभिरक्षा में उसका इलाज चल रहा था। 22 नवंबर को तबीयत ठीक हो जाने पर एसकेएमसीएच के डॉक्टर ने अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया। मंडल कारा पहुंचने के दौरान मौखिक रूप से महिला बंदी ने बताया कि 14 नवंबर की रात्रि करीब 2.30 बजे महिला सिपाही अर्चना कुमारी के साथ वह शौचालय गई थी। इसी बीच शौचालय में पहले से घुसे शैलेश कुमार और छोटे लाल कुमार ने नशीला पदार्थ सुंघाकर शौचालय में ही उसके साथ दुष्कर्म किया।

एसकेएमसीएच प्रशासन ने कहा- ऐसी काेई शिकायत नहीं मिली : मामले में एसकेएमसीएच प्रशासन ने कहा है कि ऐसी कोई शिकायत उन्हें नहीं मिली है। एसकेएमसीएच में बंदी के इलाज के दौरान उसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस की रहती है। बंदी के साथ पुलिसकर्मी वार्ड में ही रहते हैं।

लूट के दौरान गोली मारने में पुलिस ने खंगाला फुटेज
मुजफ्फरपुर | चांदनी चौक ओवरब्रिज पर रिटायर्ड फौजी नीरज कुमार को अपराधियों द्वारा गोली मारने व लूटपाट के मामले में पुलिस ने पवन भगत गिरोह के शागिर्दों के ठिकाने पर छापेमारी की। लेकिन, दोनों फरार मिले। घटना में पुलिस ने उक्त गिरोह के दो बदमाशों की पहचान कर ली है। दोनों पवन भगत गिरोह से जुड़े हैं। पूर्व में जेल भी जा चुके हैं। जेल से जमानत पर छूटने के बाद लगातार ब्रह्मपुरा और सदर इलाके में लूट व छिनतई की वारदात को अंजाम दे रहे हैं। ब्रह्मपुरा पुलिस ने घटनास्थल के समीप लगे सीसी कैमरे की फुटेज को खंगाला।

खबरें और भी हैं...