Hindi News »Bihar »Muzaffarpur» Seats Booked With Fake ID In Trains

छठ में आने वाली ट्रेनों में फर्जी आईडी से बुक हो रही सीट, ट्रैवल एजेंटों पर रेलवे की नजर

गरीब रथ में फर्जी आईडी पर बुक सीट का खुलासा होने के बाद सख्ती बढ़ा दी गई है।

Bhaskar News | Last Modified - Jul 13, 2018, 10:32 AM IST

छठ में आने वाली ट्रेनों में फर्जी आईडी से बुक हो रही सीट, ट्रैवल एजेंटों पर रेलवे की नजर

मुजफ्फरपुर.दीपावली और छठ पर्व के दौरान महानगरों से आने वाली ट्रेनों में फर्जी आईडी से सीट बुक हो रही है। सुबह 8 बजे रेलवे का आरक्षण काउंटर तथा आईआरसीटीसी का सिस्टम चालू होते ही 2 से 3 मिनट के अंदर सभी प्रमुख ट्रेनों में 120 दिन पहले की सीट हाउसफुल हो जा रही हैं। रेलवे आरक्षण काउंटर पर बड़ी मुश्किल से एक से दो यात्रियों को ही ओपनिंग टिकट मिल पा रहा है। गुरुवार को 120 दिन बाद का 9 नवंबर का एडवांस टिकट जारी किया गया। सुबह 8 बजे जैसे ही सिस्टम खुला, उसके दो मिनट के बाद ही सभी प्रमुख ट्रेनों में कंफर्म बर्थ मिलना बंद हो गया। 9 नवंबर को नई दिल्ली से मुजफ्फरपुर आने के लिए वैशाली सुपरफास्ट एक्सप्रेस में वेटिंग 450 तथा सप्तक्रांति सुपरफास्ट में 302 वेटिंग टिकट जारी किया गया। उत्तर बिहार आने वाली सभी नियमित ट्रेनों में यही हाल रहा।

दीपावली से एक सप्ताह पहले सभी ट्रेनों में मिल रहा कंफर्म बर्थ
-दीपावली से एक सप्ताह पहले उत्तर बिहार आने वाली सभी प्रमुख ट्रेनों में कंफर्म बर्थ मिल रहा है। 20 अक्टूबर से लेकर 1 नवंबर तक वैशाली, सप्तक्रांति, बिहार संपर्क क्रांति, स्वतंत्रता सेनानी, लिच्छवी, सद्भावना सहित सभी नियमित ट्रेनों में स्लीपर क्लास के 100 से 150 कंफर्म बर्थ उपलब्ध हैं।

गरीब रथ में फर्जी आईडी पर एडवांस टिकट जारी
-सहरसा से अमृतसर जाने वाली गरीब रथ एक्सप्रेस में फर्जी आईडी से बर्थ बुक होने का खुलासा हुआ है। इसमें ट्रैवल एजेंट के साथ टीटीई की भूमिका संदेह के दायरे में है। समस्तीपुर मंडल ने कुछ टीटीई को चिह्नित कर कार्रवाई शुरू कर दी है। गुरुवार को भी जांच में इस ट्रेन में फर्जी आईडी से बीस से अधिक सीट बुक होने का मामला सामने आया।

डीसीएम ने आरक्षण कार्यालय में की जांच
-महज दो से तीन मिनट में 120 दिन बाद वाली ट्रेनों में सीट बुक हो जाने की खबर को गंभीरता से लेते हुए पूर्व मध्य रेलवे ने अफसरों को इस पर नजर रखने को कहा है। खासकर ट्रेवल एजेंटों की ओर से जारी ई-टिकट पर नजर रखी जा रही है। रेलवे को आशंका है कि ट्रेवल एजेंटों द्वारा फर्जी आईडी पर फर्जी यात्री के नाम पर सीट बुक किया जा रहा है। साथ ही आरक्षण काउंटर से जारी टिकटों पर भी नजर रखी जा रही है। गुरुवार को सोनपुर मंडल के डीसीएम प्रमोद कुमार ने आरक्षण कार्यालय से जारी एडवांस व तत्काल टिकटों की जांच-पड़ताल की। गुरुवार को जंक्शन स्थित आरक्षण काउंटर से महज चार यात्रियों को ही 9 नवंबर के लिए दिल्ली से मुजफ्फरपुर का कंफर्म सीट मिला।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Muzaffarpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×