पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हादसे में जख्मी की इलाज के दौरान मौत मुआवजे के लिए एसएच-74 पांच घंटे जाम

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वाहन की ठोकर से मोतीछपरा गांव निवासी लालू महतो की मौत के बाद शव के साथ ग्रामीणाें ने बवाल किया। एसएच-74 को मोतीछपरा गांव के समीप 5 घंटे जाम कर मुआवजे की मांग कर रहे थे। पुलिस ने ग्रामीणों काे समझा कर शव को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

लालू की प|ी रेखा देवी के बयान पर अज्ञात बोलेरो चालक पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। बताया गया कि बुधवार को दरवाजे पर लालू व उसकी प|ी काम कर रहे थे, इसी बीच तेज गति से जा रही बोलेरो ने बाइक सवार को ठोकर मारते हुए लालू को कुचल दिया। गंभीर रूप से जख्मी लालू को पीएचसी में भर्ती कराया गया, जहां से रेफर करने के बाद अस्पताल में इलाज के दौरान बुधवार की देर रात उसकी मौत हो गई। मुखिया पति सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने मृतक के आश्रितों को कबीर अंत्येष्ठि के 3 हजार रुपए व पारिवारिक लाभ की राशि दिलाने का आश्वासन दिया।

परिजन को पारिवारिक लाभ की राशि दिलाने के आश्वासन पर हुए शांत
पारू में सड़क जाम कर बवाल करते लोग। सरैया में भी सड़क जाम कर की आगजनी।

इधर, सरैया में भी मुआवजे के लिए एनएच-722 चार घंटे जाम
सरैया | जैतपुर ओपी क्षेत्र के हरपुर बेनी निवासी धीरज पांडेय (26) की सदर थाना क्षेत्र के फकीर चौक पर बुधवार की रात बाइक दुर्घटना में मौत हो गई। गुरुवार की सुबह मुआवजे की मांग को लेेकर परिजनों संग ग्रामीणों ने राष्ट्रीय राजमार्ग 722 को पोखरैरा नया रोड में 4 घंटे जाम कर दिया। टायर जलाकर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। जैतपुर पुलिस को देर से पहुंचने को लेकर कोपभाजन का शिकार बनना पड़ा। परिजन आपदा कोष से 4 लाख के मुआवजे की मांग पर अड़े थे। एसडीपीओ डॉ. शंकर कुमार झा ने सीओ केके द्विवेदी से वार्ता कर पूर्व विहिप प्रखंड अध्यक्ष सतीश ठाकुर सहित अन्य लोगों के सहयोग से आक्रोशितों को समझाया व परिजनों को पारिवारिक लाभ योजना मद से 20 हजार की चेक दिया। इसके बाद शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। बताया गया कि धीरज बाइक से मुजफ्फरपुर से वापस घर लौट रहा थे। दो बाइकों में आमने-सामने की टक्कर में धीरज की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। एसडीपीओ व सतीश ठाकुर ने अपने निजी कोष से मृतक की प|ी मनीषा पांडेय की मदद की।

खबरें और भी हैं...