सीतामढ़ी / 50 हजार रुपए घूस लेते सिविल सर्जन गिरफ्तार, ट्रांसफर के लिए ले रहे थे पैसे



सिविल सर्जन को गिरफ्तार कर ले जाते निगरानी विभाग के अधिकारी। सिविल सर्जन को गिरफ्तार कर ले जाते निगरानी विभाग के अधिकारी।
X
सिविल सर्जन को गिरफ्तार कर ले जाते निगरानी विभाग के अधिकारी।सिविल सर्जन को गिरफ्तार कर ले जाते निगरानी विभाग के अधिकारी।

  • रवींद्र ने जैसे ही पैसा उठाया पहले से घात लगाए निगरानी विभाग के अधिकारियों ने उसे पकड़ लिया
  • रवींद्र ने 19 अक्टूबर 2019 को 6 कर्मियों का ट्रांसफर किया था

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2019, 05:09 PM IST

सीतामढ़ी. सीतामढ़ी में निगरानी विभाग की टीम ने शनिवार सुबह सिविल सर्जन रवींद्र कुमार को घूस लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया। रवींद्र डाटा इंट्री ऑपरेटर से मनचाही जगह ट्रांसफर करने के बदले 50 हजार रुपए रिश्वत ले रहे थे।

 

घर बुलाकर लिए पैसे

रवींद्र की गिरफ्तारी उनके सरकारी आवास से हुई। सुबह डाटा इंट्री ऑपरेटर केशव कुमार अपना ट्रांसफर रुन्नीसैदपुर करवाने के लिए पत्र लेकर उनके घर पहुंचा। रवींद्र ने पत्र पर साइन करने के बदले पैसे की मांग की। ऑपरेटर ने 50 हजार रुपए सामने रख दिए। रवींद्र ने जैसे ही पैसा उठाया पहले से घात लगाए निगरानी विभाग के अधिकारियों ने उसे पकड़ लिया। 

 

6 कर्मियों का किया था ट्रांसफर
रवींद्र ने 19 अक्टूबर 2019 को 6 कर्मियों का ट्रांसफर किया था। इसके बाद मनचाही जगह ट्रांसफर कराने के लिए रिश्वत का खेल शुरू हुआ। उन्होंने पैसे लेकर पहले दो कर्मियों का ट्रांसफर कर दिया। बाकी कर्मी भी ट्रांसफर के लिए पैरवी करने लगे तो रवींद्र ने पैसे की मांग की। 

 

पीड़ित ऑपरेटर केशव कुमार ने बताया कि सिविल सर्जन ने उसका ट्रांसफर रुन्नीसैदपुर से बैरगनिया कर दिया था। उसने जब पुन: रुन्नीसैदपुर ट्रांसफर करने के लिए पैरवी की तो रवींद्र ने एक लाख रुपए की मांग की। बाद में 50 हजार रुपए लेने को राजी हो गया। इसके बाद केशव ने निगरानी विभाग से शिकायत की। शिकायत मिलने पर निगरानी विभाग के अधिकारियों ने जाल बिछाया और रवींद्र को रंगे हाथ गिरप्तार कर लिया।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना