नबी के आगमन से छंटा जुल्म का अंधेरा, इंसानियत की राह हुई आसान

Muzaffarpur News - बोचहां सुल्तान बस्ती के नूरी जामा मस्जिद परिसर में रविवार की देर रात में ईद मिलाद उन नबी के मौके पर आमद ए रसूल...

Nov 11, 2019, 09:01 AM IST
बोचहां सुल्तान बस्ती के नूरी जामा मस्जिद परिसर में रविवार की देर रात में ईद मिलाद उन नबी के मौके पर आमद ए रसूल कान्फ्रेंस का आयोजन किया गया। इसको संबोधित करते हुए उलेमाओं ने कहा कि नबी ए करीम रसूल अल्लाह सल्लल्लाहो अलेही वसल्लम तशरीफ लाए, तब हर तरफ जुल्म का दौर था। बेटियों को जिंदा दफन कर दिया जाता था। कमजोरों का जीना मुश्किल था। ऐसे में नबी ने पूरी दुनिया को इंसानियत का संदेश दिया। महिलाओं को समाज में सम्मान मिला। कॉन्फ्रेंस को अल्लामा मौलाना मुफ्ती अबुल कलाम, मौलाना इर्तजा कमाल अशरफी सहित दर्जनों उलेमाओं ने खिताब किया। कॉन्फ्रेंस की सरपरस्ती मुफ्ती गुलाम हैदर मिस्बाही मदरसा मुस्लिम यतीमखाना एवं सदारत मौलाना इमामुद्दीन अली अहमद ने की। कान्फ्रेंस का संयुक्त संचालन मौलाना आफताब रजा, खतीब वो इमाम मौलाना शहाबुद्दीन व हाफिज आकिल हुसैन ने किया। कार्यक्रम में कादरी कमेटी के नौजवानों ने सहयोग किया। वहीं, शायरे इस्लाम शमशेर रजा नेपाली, अंजुम मुजफ्फरपुरी, अशहर मुजफ्फरपुरी व शमशेर मुजफ्फरपुरी ने नातिया कलाम पेश किया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना