समाज में जनतांत्रिक चेतना का क्षरण जितना ज्यादा होगा मानवाधिकार पर संकट उतना अधिक गहराएगा : प्राे. प्रभाकर

Muzaffarpur News - पीयूसीएल के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो. प्रभाकर सिन्हा ने कहा, समाज में जनतांत्रिक चेतना का क्षरण जितना ज्यादा...

Dec 11, 2019, 08:20 AM IST
पीयूसीएल के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो. प्रभाकर सिन्हा ने कहा, समाज में जनतांत्रिक चेतना का क्षरण जितना ज्यादा हाेगा, मानवाधिकार पर संकट उतना ही अधिक गहराएगा। उन्होंने कहा, देश व समाज में जनतांत्रिक चेतना और स्वभाव का तेजी से क्षरण हुआ है। एकाधिकार प्रवृत्ति का बोलबाला बढ़ा है। यह मानवाधिकार की प्रतिष्ठा के लिए खतरा है। प्राे. सिन्हा मंगलवार काे रामदयालु सिंह महाविद्यालय में शहीद दिवस के अवसर पर लोकतंत्र एवं मानवाधिकार विषय पर अायाेजित संगाेष्ठी में बाेल रहे थे। उन्हाेंने 10 दिसंबर के महत्व की चर्चा करते हुए कहा, इसी दिन 1966 में जब जनतांत्रिक अधिकार की लड़ाई में महाविद्यालय के छात्र महेश शाही और प्रो. निगमानंद कुंअर पुलिस की गोली से एक साथ शहीद हुए थे, तब पूरे बिहार में तत्कालीन सरकार के खिलाफ सत्ता विरोधी आंदाेलन उठ खड़ा हुअा था। बिहार में पहली बार कर्पूरी ठाकुर के नेतृत्व में गैर-कांग्रेसी संविद सरकार का गठन हुआ था और इस महाविद्यालय सरकारीकरण हुआ था। साहित्यकार डॉ. राजनारायण राय, डॉ. भारती सिन्हा, डॉ. केके झा, डॉ. अनिल कुमार शर्मा, स्व. महेश शाही के भाई रमेश शाही आदि ने शहीदों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की। संगोष्ठी की अध्यक्षता आयोजन समिति के संयोजक डॉ. विकास नारायण उपाध्याय और संचालन शिक्षक संघ के सचिव डॉ. रमेश प्रसाद गुप्ता ने किया। विषय-प्रवेश डॉ. एमएन रजवी एवं धन्यवाद ज्ञापन डॉ. अनीता सिंह ने किया। संगोष्ठी के पहले शिक्षक, कर्मी एवं छात्र-छात्राओं ने शहीद प्रो. निगमानंद कुंअर और महेश शाही की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। वहीं, दाे मिनट का मौन रखा गया अाैर शाम में प्रतिमा स्थल पर दीप जलाया गया। इस माैके पर डॉ. अनीता घोष, डॉ. इंदिरा कुमारी, डॉ. लक्ष्मी कुमारी साह, डॉ. कहकशाँ, डॉ. संजय कुमार, डॉ. संजय कुमार सुमन, डॉ. आलोक प्रताप सिंह, डॉ. श्याम बाबू शर्मा, डॉ. प्रदीप कुमार चौधरी, डॉ. राम कुमार, डॉ. रवींद्रनाथ ओझा, डॉ. सत्येंद्र प्रसाद सिंह, डॉ. प्रमोद कुमार आदि ने विचार रखे।

अारडीएस काॅलेज में संगोष्ठी के दौरान उपस्थित प्राध्यापक व अन्य।

अारडीएस काॅलेज में संगोष्ठी को संबोधित करते वक्ता।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना