विद्यालयों काे नहीं भेजी शाैचालय मरम्मत की राशि

Muzaffarpur News - जिले के 134 विद्यालय चिह्नित हाेने के बाद भी अागे नहीं बढ़ी कार्रवाई मुन्ना कुमार|मुजफ्फरपुर जिले के कर्ई...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 08:25 AM IST
Muzaffarpur News - the school did not send the amount of motor cycle repair
जिले के 134 विद्यालय चिह्नित हाेने के बाद भी अागे नहीं बढ़ी कार्रवाई

मुन्ना कुमार|मुजफ्फरपुर

जिले के कर्ई विद्यालयाें में शाैचालय व पेयजल की स्थिति बेहद खराब है। इससे स्टूडेंट्स की पढ़ाई प्रभावित हाे रही है। वहीं शिक्षण कार्य भी प्रभावित हाे रहा है। खराब पड़े शाैचालय अाैर पेयजल की उचित व्यवस्था नहीं हाेने से बच्चाें अाैर शिक्षकाें काे दिक्कत हाे रही है। सबसे ज्यादा परेशानी बालिकाअाें काे है। कई छात्राएं ताे इस दिक्कत से परेशान हाेकर स्कूल नहीं अाना चाहती हैं, लेकिन शिक्षा विभाग की अाेर से ध्यान नहीं दिया जा रहा है। गाैरतलब है, शिक्षा विभाग की अाेर से जिले में 134 विद्यालयाें काे चिह्नित किया गया था, जहां शाैचालय की स्थिति खराब है। इसके लिए राज्य सरकार की अाेर से प्रति विद्यालय 6 हजार रुपए के हिसाब से राशि शिक्षा विभाग काे भेजी गई थी, लेकिन यह विभाग की फाइलाें तक ही सीमित है। अभी तक एक भी विद्यालय में इसे नहीं भेजा गया है। इसका कारण पूछे जाने पर अधिकारी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ रहे हैं।

स्कूल में लगे हैं दाे चापाकल, लेकिन निकलता है गंदा पानी | सादिया प्रवीण ने बताया, विद्यालय में पानी की उचित व्यवस्था नहीं है। विद्यालय में दाे-दाे चापाकल लगे हैं, लेकिन उनसे गंदा पानी निकलता है, जिसे पीना संभव नहीं है। हालांकि मजबूरी में पीना पड़ता है। शबनम प्रवीण ने बताया, विद्यालय में पानी की स्थिति काफी खराब है। चापाकल से प्रदूषित पानी अाता है। संजीदा प्रवीण ने बताया, घर से बाॅटल में पानी लेकर अाते हैं।

डीईअाे बाेले- सर्व शिक्षा अभियान काे जिम्मेदारी दी, डीपीअाे बाेले- उन्हें जानकारी नहीं |डीईअाे डाॅ. विमल कुमार ठाकुर ने कहा कि इस याेजना के तहत कार्य कराने की जिम्मेदारी सर्व शिक्षा अभियान काे दी गई थी। इसलिए इसके बारे मंे ज्यादा जानकारी नहीं है। वहीं सर्व शिक्षा अभियान के डीपीअाे अमरेेंद्र कुमार पांडे ने बताया, इस याेजना के बारे में उन्हें काेई जानकारी नहीं है। इससे संबंधित जानकारी डीईअाे के पास ही हाेगी।

शिक्षक बाेले- पेयजल व शाैचालय की व्यवस्था नहीं, पढ़ाई पर असर | शिक्षक सुबाेध कुमार ने बताया, विद्यालय में बच्चाें की संख्या के अनुपात में शाैचालय अाैर पीने के पानी की उचित व्यवस्था नहीं है, जिसके कारण परेशानी हाेती है। शिक्षा विभाग काे भी सूचित किया गया था, लेकिन अभी तक ध्यान नहीं दिया गया। शिक्षक पवन कुमार ने बताया, स्कूल में शाैचालय व पानी की व्यवस्था नहीं है। इससे दिक्कत हाेती है। इसी तरह संजय कुमार ने कहते हैं, शाैचालय खराब हाेने से समस्या हाेती है।

X
Muzaffarpur News - the school did not send the amount of motor cycle repair
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना