जमुआरी नदी पर बने पुल के दोनों बीम पर आवाज के साथ पड़ी दरार

Muzaffarpur News - कृषि कॉलेज ढोली के पास मुजफ्फरपुर-पूसा मुख्य मार्ग के जमुआरी नदी पर बने पुल के बीम के दोनों हिस्से रविवार रात...

Oct 22, 2019, 08:20 AM IST
कृषि कॉलेज ढोली के पास मुजफ्फरपुर-पूसा मुख्य मार्ग के जमुआरी नदी पर बने पुल के बीम के दोनों हिस्से रविवार रात अचानक तेज धमाके के साथ क्रेक कर गया अाैर पुल का पश्चिमी भाग करीब दो इंच नीचे खिसक गया। धमाके की आवाज सुनकर स्थानीय लोग पहुंचे। देखा गया कि पुल के ऊपरी हिस्से पर बनी रेलिंग पर भी दरार आ गई है। यह पुल 4 साल पहले बनी थी। स्थानीय लोगों ने पुल निर्माण निगम के अधिकारियों से बात की। रविवार रात को ही विभागीय इंजीनियरों का एक दल पहुंच कर हालात का जायजा लिया। सोमवार की सुबह पुल का मुआयना करने के बाद बड़े वाहनों के परिचालन पर रोक लगा दी गई। छोटे वाहन बगल के पुराने पुल से होकर अा-जा रहे हैं। पुल के ऊपरी हिस्से पर बैरिकेडिंग कर दी गई है।

मुजफ्फरपुर से पूसा को जोड़ने वाली लाइफ लाइन प्रभावित

पुल के बीम के दोनों हिस्से में आई दरार।

पुराने जर्जर पुल के विकल्प में बना था दूसरा पुल

कृषि कॉलेज ढोली के पास पहले से ही जमुआरी नदी पर पुल था, लेकिन उसकी जर्जर हालत को देखते हुए विभाग ने यहां 2013 में दूसरा पुल निर्माण करवाया। पुल 2014 में एक साल में बन कर तैयार हो गया था। उस समय निर्माण में 1 करोड़ 30 लाख रुपए खर्च किए गए थे।

पुल निर्माण में गुणवत्ता को लेकर दिए थे धरना

जिस समय पुल का निर्माण हो रहा था, उसी वक्त स्थानीय लोग घटिया निर्माण बता कर जमुआरी नदी के किनारे तीन दिन धरने पर बैठ गए थे। किसान संघर्ष मोर्चा के प्रांतीय अध्यक्ष व उस वक्त धरने का अगुवाई कर रहे वीरेंद्र कुमार राय ने बताया कि यह पुल मुजफ्फरपुर-पूसा मुख्य मार्ग पर है। मुजफ्फरपुर व पूसा को जोड़ने वाले इस पुल को लाइफ लाइन कहा जाता है। धरना देने के बाद भी पुल निर्माण में घटिया किस्म की सामग्री का इस्तेमाल किया गया। धरने में शामिल मुखिया सच्चिदानन्द सुमन ने भी बताया कि शुरू से ही पुल का घटिया निर्माण किया गया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना