पत्नी वर्षा बोलीं- मदद करनेवालों को मिल रही हत्या की धमकी, 18 को रखेंगे उपवास

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 04:31 AM IST

Muzaffarpur News - क्राइम रिपोर्टर | मुजफ्फरपुर पूर्व मेयर समीर हत्याकांड में उनकी प|ी वर्षा रानी व पुत्र तनुल ने बड़ा खुलासा करते...

Muzaffarpur News - wife varsha bin the threat to the helpers getting help 18 will keep fast
क्राइम रिपोर्टर | मुजफ्फरपुर

पूर्व मेयर समीर हत्याकांड में उनकी प|ी वर्षा रानी व पुत्र तनुल ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि हमारी मदद करने वालों को अब अलग-अलग तरीके से डराया-धमकाया जा रहा है। हत्या की धमकी दी जा रही। पुलिस को काफी वक्त दिया। अब यह समझ में आ गया है कि इस जांच से कुछ नहीं होने वाला है। अपराधियों को बचाने के लिए कल्याणी की जमीन के सौदे की मनगढ़ंत कहानी गढ़ी गई है। साजिशकर्ता के प्रभाव में अनुसंधान की दिशा बदल दी गई। अब हम सीबीआई जांच की मांग करते हैं। इसके लिए 18 जनवरी को कलेक्ट्रेट पर एक दिन का उपवास रखेंगे। हम शहरवासियों से मदद की अपील करते हैं कि वे न्याय के लिए इसमें शामिल हों। जरूरत पड़ी तो सीएम हाउस पर भी धरना देंगे।

मेयर की प|ी ने कहा कि पुलिस कह रही है कि गुत्थी सुलझ गई। लेकिन मुझे लगता है कि पुलिस ने अपराधियों के बयान को तरजीह देकर और उलझा दिया है। हत्यारे कौन हैं, नए हैं या पुराने, उन्हें राजनीतिक समर्थन किससे हैं। यह पता लगाने के बजाय अपराधियों को ही सम्मान दिया जा रहा। पुलिस का सारा अनुसंधान इसी पर केंद्रित है कि समीर जी ही दोषी थे। हत्यारों को इस तरह पेश किया गया जैसे वो अवतार हों और सारे पापों का नाश करने आने आए हैं। क्या हत्यारा कभी यह बयान देगा कि समीर जी अच्छे इंसान थे, इसलिए उनकी हत्या कर दी। अपराधियों के गलत बयानी को सबूत व सुराग मानकर जांच की गई है। कभी कहा गया कि पिंटू से एके-47 हथियार लिया गया तो दूसरे के बयान से कहलवा दिया गया कि नवीन ने हथियार दिया। चार महीने बीत गए पुलिस हथियार का कोई सुराग तक नहीं लगा सकी। पुलिस ने अपराधियों को रॉबिनहुड बनाकर पेश किया है।

अधिकारी कह रहे हैं कि हत्यारों से पैसे का लेन-देन का मामला था। तय पैसा नहीं मिला तो समीर जी की हत्या कर दी गई। तीन महीने बीतने पर अपराधी आता है। मनगढ़ंत कहानी बनाकर पेश कर दिया जाता है और पुलिस उसे ही सत्य मान लेती है। अलग-अलग स्वीकारोक्ति बयान में अलग-अलग नाम। एक के बयान में आई बातों का दूसरे के बयान से बचाव किया गया।

पूर्व मेयर समीर कुमार की प|ी वर्षा रानी व उनके पुत्र प्रेस से वार्ता करते।

इधर, सुजीत से हत्या की साजिश रचने वाले रसूखदार का पुलिस ने पूछा नाम



क्राइम रिपोर्टर | मुजफ्फरपुर

समीर हत्याकांड में 5 दिन के रिमांड पर लिए गए सुजीत कुमार से पूर्व मेयर की हत्या की साजिश रचने वाले रसूखदार के बारे में पूछताछ चल रही है। कुछ जानकारी मिली है जिसे पुलिस अधिकारी गोपनीय रखकर सत्यापन में जुटी है। इसके साथ ही सुजीत से मिली जानकारी के आधार पर पुलिस टीम एके-47 हथियार की बरामदगी के लिए छापेमारी कर रही है। कटरा के धनौर में नगर थानेदार धनंजय कुमार के नेतृत्व में देर शाम में छापेमारी की गई। पूर्व मेयर हत्याकांड के अलावा कहनानी मर्डर कांड में भी पुलिस टीम सुजीत से पूछताछ कर रही है। पूछताछ के आधार पर नगर थानेदार ने रविवार को कहनानी मर्डर कांड के वादी कार चालक आदित्य को थाने पर बुला पूछताछ की। आदित्य ने जिन लोगों को नामजद आरोपित बनाया था उसके बारे में ही गोविंद ने पहले खुलासा किया। बताया था कि मिठनपुरा इलाके के एक प्रॉपर्टी डीलर ने शूटर बुलवा अशोक कहनानी की मर्डर कराई थी। शूटर को बड़ी राशि दिए जाने की भी जानकारी पुलिस को मिली है। पूर्व मेयर हत्याकांड में गोविंद, श्याम नंदन मिश्रा, सुशील छापड़िया, ओमकार और मृत्युंजय कुमार के बयान में यह आया है कि समीर से जुड़े कुछ प्रॉपर्टी डीलर शूटर गिरोह से मिल गए थे। यह प्रॉपर्टी डीलर कौन है इस संबंध में पुलिस टीम सुजीत से जानकारी ले रही है। पुलिस लाइन के सेल में अलग-अलग अधिकारियों की टीम सुजीत से पूछताछ कर रही है। पूरे मामले की मॉनिटरिंग सिटी एसपी राकेश कुमार कर रहे हैं।

Muzaffarpur News - wife varsha bin the threat to the helpers getting help 18 will keep fast
X
Muzaffarpur News - wife varsha bin the threat to the helpers getting help 18 will keep fast
Muzaffarpur News - wife varsha bin the threat to the helpers getting help 18 will keep fast
COMMENT