संस्कृति व तकनीकी युग का समावेश है निष्ठा की ट्रेनिंग

Nawada News - भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय एवं एनसीईआरटी नई दिल्ली के संयुक्त प्रयासों से एकीकृत शिक्षक...

Feb 15, 2020, 09:55 AM IST

भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय एवं एनसीईआरटी नई दिल्ली के संयुक्त प्रयासों से एकीकृत शिक्षक प्रशिक्षण मॉड्यूल निष्ठा आधारित 5 दिवसीय गैर आवासीय प्रशिक्षण के द्वितीय चरण का शुभारम्भ प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी आशा कुमारी ने दीप प्रज्वलित कर किया सिरदला प्रखंड के शिक्षकों को नई तकनीकों से दी जा रहीं है निष्ठा की ट्रेनिंग वही प्रशिक्षण को बता रहे लोग रोचक। मंगलवार को प्रशिक्षक राजेश कुमार भारती द्वारा पोक्सो एक्ट के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गयी। इसके अलावा अध्यापकों ने समूहवार कई महत्वपूर्ण विषयों बारे एक्टिविटी के साथ बेहतर प्रस्तुति दी। पांच दिवसीय निष्ठा प्रशिक्षण के द्वितीय चरण में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी आशा कुमारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार चौधरी एवं डीपीओ जमाल मुस्तफा के नेतृत्व में एसआरपी ममता, केआरपी राजू रंजन, पंकज कुमार, पंकज नयन व तौकीर आलम तथा राजेश कुमार भारती की जबरदस्त भूमिका देखने को मिल रहा है ।

निष्ठा प्रशिक्षण के मास्टर ट्रेनर राजेश कुमार भारती ने प्रशिक्षण पा रहे शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी अध्यापक प्रशिक्षण में प्राप्त ज्ञान को धरातल में लाने का प्रयास करें तभी यह प्रशिक्षण सार्थक होगा । उन्होंनें कहा कि बच्चों को नैतिकता से ओत प्रोत शिक्षा प्रदान की जाए । बच्चों में आज के युग में संस्कार देना अति अनिवार्य है ।

प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे प्रखंड के करीब 150 अध्यापकों को निष्ठा की ट्रेनिंग स्मार्ट टीवी और प्रोजेक्टर जैसे तकनीकी सुविधाओं का भी मिल रहा है फायदा । बच्चों व शिक्षकों को गुड टच तथा बैड टच एक वीडीओ के माध्यम से रोचक तरीके से बतायी गयी । प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे गुरुओं ने निष्ठा प्रशिक्षण कार्यक्रम को सराहा ।

इस अवसर पर कई शिक्षकों ने अपने विचार साँझा किए व इस प्रशिक्षण को सराहा. वहीँ शिक्षक विजय कुमार, सुधांशु कुमार का कहना है कि जो कुछ भी इस प्रशिक्षण में उन्होंनें हासिल किया है । वह अपने विद्यालय में इसे लागू करने की कोशिश करेंगे । उन्होंनें अन्य अध्यापकों से भी आह्वान किया कि वे भी सीखी गई बातों को अपने विद्यालय में लागू करें ।

राजु रंजन ने जहां विद्यालयी स्वस्थ्य, स्वच्छता की दी गयी जानकारी। वहीं पंकज नयन ने विज्ञान शिक्षण शास्त्र को सरल सीखने की व्याख्या किया । तौकीर आलम एवं पंकज कुमार ने गतिविधियों का संचालक किया । जिससे सदन में विद्यार्थी केंद्रित शिक्षण विधि, सीखने के प्रतिफल और समावेशी शिक्षा को रेखांकित किया जा सके । डॉ ममता ने सभी प्रशिक्षण कक्ष में निष्ठा प्रशिक्षण पर प्रकाश डाला ।

काशीचक बीआरसी में जारी पांच दिवसीय निष्ठा प्रशिक्षण के पांचवें दिन मास्टर ट्रेनर जतिन कुमार ने कहा कि आज शिक्षा के केंद्र में शिक्षक नहीं है बल्कि छात्र है। इस बात को केंद्र में रख कर शिक्षक वर्ग का संचालन करें। इस निष्ठा मॉड्यूल का उद्देश्य समेकित शिक्षक प्रशिक्षण के माध्यम से विद्यालय की शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करना है। प्रशिक्षण के क्रम में प्रतिभागियों ने विषय वस्तु आधारित समूह कार्य, साक्षरता गीत,कविता आदि की प्रस्तुति की। निष्ठा ट्रेनिंग के अंतिम दिन पोस्ट टेस्ट भी दिया।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना