सुखाड़ की मार झेल रहे किसान नीलगाय से परेशान

Nawada News - प्रखंड क्षेत्र के कई गांव के किसान लाख प्रयास के बावजूद अपनी कीमती फसल को नीलगायों के झूंड से बचा नहीं पा रहे है।...

Feb 15, 2020, 09:40 AM IST
Roh News - farmers facing drought are troubled by nilgai

प्रखंड क्षेत्र के कई गांव के किसान लाख प्रयास के बावजूद अपनी कीमती फसल को नीलगायों के झूंड से बचा नहीं पा रहे है। पक्के हुए फसल को बचाना किसानोंं को नीलगायों के आगे उनकी एक न चल रही है। नीलगायों का झुंड रातभर खेतों मे विचरण करता रहता है । इसके अलावा दिन में भी इनका आतंक कम नहीं हो रहा है। इससे किसान खासें चिंतित है। पिछले कुछ दिनों में खेतों पर नीलगायों का आतंक काफी बढ़ गया है। नीलगायों का झूंड फसल को अपना निवाला बना रहे है। यह समस्या सभी क्षेत्र के किसानों के सामने एक जैसी हो गई है। अथक प्रयास के बावजूद भी किसानों को नीलगायों से निजात नहीं मिल पा रहा है। मजबूरन किसान अपनी फसल को बर्बाद होते देख भर रहे है। वैसे भी इस बर्ष बारिश नहीं होने तथा मौसम के साथ नहीं देने से सुखार की मार झेल रहे किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। किसान अभी इससे उबरे भी नहीं है कि नीलगायों की समस्या ने उनकी चिंता को बढ़ा दी है। नीलगाय को मारने से किसान हिचकते है। बताया जाता है कि नीलगायों को आतंक तथा फसलों की बर्बादी को देखते हुए सरकार द्वारा पिछले सालों नीलगायों को मारने की छूट दिया था, लेकिन अब सरकार के द्वारा ही मारने पर रोक लगा दी गई। किसान धार्मिक कारणों से नीलगायों का शिकार नहीं कर पाते है। जिससे इनकी संख्या तेजी से बढ़ रही है। झुंड में आकर फसलों को बर्बाद कर रही है। किसान मनोज रावत, शंकर सिंह, गौरी सिंह श्रवेश सिंह, श्रीचंद माहतो, विरेन्द्र सिंह का कहना था कि पहले नीलगाय इक्के दुक्के कर खेतों में आते थे। लेकिन ठंड के इस मौसम में नीलगायें झूंड में आ रही है। जिन्हें खेतों से दूर भगाना आसान नहीं होता है।

नहीं निकल रहा कोई हल

नीलगाय से फसलों को बचाने का कोई विकल्प भी नहीं खोजी जा रही है जिससे किसानों को राहत मिल सकें। किसानों की मानें तो दिन और रात में एक सामन रूप से नीलगायें खेतों में घुस फसल को चौपट कर देती है। सबसे ज्यादा क्षति पकी हुई फसल दलहन तेलहन को पहुंचा रही है जिस खेत में झुंड व झुंड रहता है वह फसल अपने आप झर कर गीर जाता है। किसानों का कहना है कि नीलगायों के आतंक से हर साल हरेक फसल का एक चौथाई हिस्सा नष्ट होता जा रहा हैै।

सुखा पड़ा खेत।

X
Roh News - farmers facing drought are troubled by nilgai
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना