--Advertisement--

प्रोफेशनल ब्लैकमेलर निकली ये लड़की, हुस्न के जाल में फंसते थे हाईप्रोफाइल लोग

पिता के अवैध संबंध में गई मासूम की जान, मृतक के पिता के साथ वायरल है इस ब्लैकमेलर लड़की की तस्वीर।

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2018, 08:22 PM IST
राकेश और काजल। राकेश और काजल।

बक्सर/डुमरांव (बिहार). शशांक हत्याकांड (08 जून) के 6 दिन बीत चुके हैं। लेकिन पिता राकेश राय उर्फ रिंकू राय ने पुलिस के सामने अब भी अपना मुंह बंद रखा है। वहीं पुलिस इस मामले में भले ही मुख्य आरोपी काजल राय की गिरफ्तारी न कर पाई हो। लेकिन, काजल व रिंकू के अंतरंग संबंधों से एक-एक कर पर्दा हटाने लगी है। पुलिस सूत्रों की मानें तो छापेमारी के दौरान कुछ तस्वीरें पुलिस को मिली हैं। जिससे साफ हो गया है कि काजल प्रोफेशनल ब्लैकमेलर है। वह डीएसपी, डॉक्टर समेत कई सफेदपोशों पर रेप की एफआईआर दर्ज करा उनसे ब्लैकमेल कर पैसे ऐंठती रही है। अपनी अदाओं से हाईप्रोफाइल लोगों को फंसाकर पैसे ऐंठती थी काजल...

- पुलिस को काजल की कई तस्वीरें बरामद हुई हैं। इनमें मृतक शशांक के पिता राकेश राय के साथ भी काजल की तस्वीर पुलिस के हाथ लगी है।
- पुलिस का मानना है कि इसी तस्वीर से वह राकेश को ब्लैक मेल कर रही थी। काजल सर्विस मैन और व्यवसायियों को टारगेट करती है।
- अपने रूप व अदा से बलिया से लेकर वाराणसी, लखनऊ, गोरखपुर के कई नामी हस्तियों से करोड़ों रुपया ऐंठ चुकी है।
- जब इस संबंध में बक्सर एसपी राकेश कुमार से पूछा गया तो उन्होंने कहा- राकेश राय और काजल की कुछ तस्वीरें सामने आई हैं। जिसको लेकर जांच चल रही है। (दैनिक भास्कर को यह तस्वीरें सोशल मीडिया से मिली हैं। इसकी सच्चाई का दावा दैनिक भास्कर नहीं करता है।)

वाराणसी के कैंट थाने में भी दर्ज है एफआईआर

- यूपी पुलिस के विश्वस्त सूत्र बताते हैं कि ब्लैकमेलिंग करना काजल की आदतों में शुमार है। उसने वाराणसी में एक युवक पर रेप की एफआईआर की है। जिसके बाद उसने ब्लैकमेल कर पैसे ऐंठे थे।
- इस मामले में 30 जून 2016 को कैंट थाने में एफआईआर दर्ज है। इसके बाद सारनाथ में चंदन राय नाम के शख्स को रेप केस में फंसा दी। जिससे 10 लाख रुपये ब्लैकमेल कर ली थी। उस 10 लाख रुपये में से राकेश ने 4 लाख रुपये चुरा लिए। जिससे दोनों के बीच अनबन हो गई।
- बता दें कि चंदन राय का भी नाम शशांक की ह्त्या में आया है। इधर, एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि काजल का भाई अपनी बहन की जिंदगी बर्बाद करने का दोषी राकेश को मानता है।
- उसने भी बदले में हिसाब बराबर करने की मंशा जाहिर की थी। शशांक की ह्त्या में काजल के भाई को भी पुलिस जांच के दायरे में ला रही है।

शशांक हत्याकांड की जांच को लेकर पुलिस की 2 टीमें गठित

- बक्सर जिले के सिमरी थाना क्षेत्र के दुधीपट्टी से 12 वर्षीय बालक शशांक का अपहरण के बाद हत्या मामले के खुलासे को लेकर पुलिस जुटी है। इसके लिए स्थानीय स्तर और राज्य स्तर पर दो टीमें गठित की गई हैं।
- बता दें, 8 जून को शशांक का अपहरण कुछ अज्ञात लोगों के द्वारा तब कर लिया गया था, जब वह अपने ननिहाल आया हुआ था। अपहरण करने के बाद अपराधियों ने गाजीपुर में ले जाकर उसकी हत्या कर दी थी। गंगा के रेत से उसका शव लावारिस हालत में बरामद हुआ था। परिजनों के जाने के बाद उसकी पहचान की गई थी।

पुलिस के मुताबिक, प्रोफेश्नल ब्लैकमेलर है कागज। पुलिस के मुताबिक, प्रोफेश्नल ब्लैकमेलर है कागज।
यूपी के बलिया से लेकर बक्सर तक ठगी कर चुकी है काजल। यूपी के बलिया से लेकर बक्सर तक ठगी कर चुकी है काजल।
सोशल मीडिया में मिली काजल और राकेश की तस्वीरें। सोशल मीडिया में मिली काजल और राकेश की तस्वीरें।
X
राकेश और काजल।राकेश और काजल।
पुलिस के मुताबिक, प्रोफेश्नल ब्लैकमेलर है कागज।पुलिस के मुताबिक, प्रोफेश्नल ब्लैकमेलर है कागज।
यूपी के बलिया से लेकर बक्सर तक ठगी कर चुकी है काजल।यूपी के बलिया से लेकर बक्सर तक ठगी कर चुकी है काजल।
सोशल मीडिया में मिली काजल और राकेश की तस्वीरें।सोशल मीडिया में मिली काजल और राकेश की तस्वीरें।
Bhaskar Whatsapp
Click to listen..