देर रात दोनों तरफ से कई राउंड चलीं गोलियां, पुलिस फायरिंग में दो अपराधियों को लगी गोली, एक की मौत। गोली लगने से पुलिस अधिकारी ने मौके पर तोड़ा दम / देर रात दोनों तरफ से कई राउंड चलीं गोलियां, पुलिस फायरिंग में दो अपराधियों को लगी गोली, एक की मौत। गोली लगने से पुलिस अधिकारी ने मौके पर तोड़ा दम

dainikbhaskar.com

Oct 13, 2018, 11:41 AM IST

बिहार के खगड़िया में अपराधियों और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई, एक अपराधी की गोलने से मौत, एक घायल

Encounter between police and criminals at Bihar

खगड़िया, बिहार। खगड़यिा जिले में परबत्ता थाना क्षेत्र के दुधैला दियार में अपराधी और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में पसराहा थाना के प्रभारी की गोली लगने से मौत हो गई है, जबकि एक अन्य पुलिसकर्मी गंभीर घायल है। मिली जानकारी के मुताबिक शुक्रवार देर रात सूचना मिली थी दुधैला दियार में कुख्यात दिनेश मुनि गिरोह के सदस्य एक बड़ी घटना को अंजाम देने के इरादे से पहुंचे है। खबर लगते ही पसराहा थाना प्रभारी आशीष कुमार पुलिस बल के साथ अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए निकल पड़े। लेकिन अपराधियों को पुलिस के आने की भनक लग जाती है। जैसे से पुलिसबल मौके पर पहुंचता है तो अपराधी ताबङतोङ फायरिंग शुरू कर देते है। जवाबी कार्रवाई में पुलिस भी फायरिंग करती है। दोनों तरफ से कई राउंड गोलियां चलीं।

अपराधी को उतारा मौत के घाट

मुठभेड़ के दौरान अपराधियों की गोली लगने से थाना प्रभारी आशीष की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिसकर्मी दुर्गेश कुमार को जेएलएनएमसीएच अस्पताल भागलपुर में भर्ती कराया गया। उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। थाना प्रभारी आशीष कुमार सिंह का शव पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर भेजा गया है। थाना प्रभारी आशीष कुमार सिंह 2009 बैच से थे। वे सहरसा जिले के बलवाह क्षेत्र के रहने वाले थे। इस मुठभेड़ में एक अपराधी का शव बरामद कर लिया गया है। मृत अपराधी नारायणपुर प्रखंड के भवानीपुर ओपी अंतर्गत चौहद्दी गांव का श्रवण यादव था। इसके अलावा एक और अपराधी के घायल होने की सूचना है।

इलाके में तलाशी अभियान जारी

पुलिस और अपराधियों के मुठभेड़ की सूचना मिलते ही खगड़िया पुलिस अधीक्षक मीनू कुमारी, गोगरी एसडीपीओ प्रमोद कुमार झा समेत कई थाना की पुलिस घटनास्थल की पहुंचे। यह मुठभेड़ गंगा नदी के सलारपुर दियारा इलाके में हुई है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के नेतृत्व में इस इलाके में छापेमारी शुरू कर दी गई है। वरिष्ट अधिकारियों के मुताबिक दिनेश मुनि एक कुख्यात अपराधी है। खगड़िया में उसके खिलाफ हत्या, लूट, डकैती और अपहरण के कई मामले दर्ज हैं। अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए खगड़िया और नवगछिया सहित पूरे इलाके में सघन तलाशी अभियान चलाया जा रहा है।

X
Encounter between police and criminals at Bihar
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543