खबरें

--Advertisement--

राजद एमएलए ने देर से पहुंचने पर सीओ को लात-घूसे से पीटा; हाईवे पर युवक की मौत के बाद मुआवजे के लिए वीरेंद्र सिन्हा कर रहे थे प्रदर्शन

अंचल के आपदा राहत कोष में नहीं थे पैसे, बीडीओ से चेक ले पहुंचे थे सीओ

Danik Bhaskar

Jun 30, 2018, 02:06 AM IST
सड़क हादसे में युवक की मौत का म सड़क हादसे में युवक की मौत का म

औरंगाबाद (बिहार). दाउदनगर में शुक्रवार को राजद विधायक वीरेंद्र सिन्हा ने सीओ तारा प्रकाश को समर्थकों के साथ मिलकर पीट दिया। सीओ जख्मी हो गए। विधायक एक युवक की मौत के बाद प्रदर्शन कर रहे थे। लेकिन सीओ घटना के दो घंटे बाद मौके पर पहुंचे। इसी बात को लेकर विधायक भड़क गए। इस दौरान जब सीओ ने इस घटना के बारे में वरीय अधिकारियों को सूचना देने के लिए फोन निकाला तो विधायक ने उनके फोन को भी फेंक दिया।

विधायक समर्थकों समेत सड़क पर थे, तत्काल मुआवजे की मांग पर अड़े पर थे: औरंगाबाद-पटना हाईवे पर शुक्रवार को एक अज्ञात वाहन दो बाइक सवार युवकों को रौंद दिया था। इसमें एक की मौके पर मौत हो गई थी। वहीं दूसरा गंभीर रूप से जख्मी हो गया था। युवक की मौत के बाद स्थानीय राजद विधायक मुआवजे की मांग को लेकर अपने समर्थकों के साथ सड़क पर उतर गए। इस दौरान विधायक पीड़ित परिवार को तत्काल आपदा राहत के तहत देने की मांग कर रहे थे। जिस पर दाउदनगर सीओ तारा प्रकाश ने विधायक को फोन पर बताया- आपदा राहत के अकाउंट में पैसे नहीं हैं। बीडीओ से चेक लेकर कुछ देर में आ रहे हैं। इस बीच जरूरी जांच भी कर लिए जाएंगे। लेकिन विधायक ये सब मानने तैयार नहीं थे। वे तत्काल मुआवजे देने की मांग पर अड़े थे। करीब दो घंटे बाद सीओ मौके पर चेक लेकर पहुंचे तो विधायक ने समर्थकों के साथ हमला बोल दिया। इस दौरान विधायक वीरेंद्र सिन्हा ने अपने समर्थकों के साथ सीओ को लात-घूसे से पिटाई की।

बोले सीओ- किस्मत से बचा : सीओ तारा प्रकाश ने बताया किस्मत से बचा हूं। विधायक व उनके समर्थक काफी उग्र थे। और बेरहमी से पिटाई कर रहे थे। ऐसी घटना की उम्मीद नहीं थी। इस मामले की वरीय अधिकारियों को जानकारी दी गई है। विधायक व उनके समर्थकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएंगे। सीओ ने बताया घटना की सूचना मिलते ही मैं कानूनी प्रक्रिया में जुट गया था। क्योंकि प्रावधान के तहत हादसे एक से कम एक मौत और एक जख्मी होना जरूरी है। मौत की तो सूचना तो मिल गई थी। लेकिन जख्मी का भौतिक सत्यापन करना जरूरी था। जिसे मैं कर रहा था। इसी कारण लेट हुई। साथ ही सीओ के आपदा राहत मद में पैसे नहीं थे। इसके बाद बीडीओ से आपदा का चेक लेकर पीड़ित परिवार को देना था। लेकिन बीडीओ जांच के क्रम में शमशेर नगर गए थे। लौटने के बाद बीडीओ से चेक लेकर मौके पर गया था।

बोले एसपी- घटना की मिली है सूचना

एसपी डॉक्टर सत्य प्रकाश ने बताया कि घटना की जानकारी मिली है। सीओ द्वारा लिखित शिकायत मिलते ही एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। पुलिस मामले की तहकीकात शुरू कर दिया है।
विधायक बोले - हैलो-हैलो नहीं मिल रही आवाज और फोन डिसकनेक्ट कर दिया। घटना के बाद जब दैनिक भास्कर ने विधायक से पक्ष जानने के लिए फोन किया तो विधायक हेल्लो- हैल्लो आवाज नहीं आ रही है, कहकर सवाल को टालते रहे, जब तीसरी बार फोन किया तो बोले बोलिये जब सीओ द्वारा मारपीट करने के आरोप के बारे में पूछा तो फोन काट दिया।

Click to listen..