--Advertisement--

निजी सवालों को उठाया जाए तो सीएम से लेकर पीएम भी नहीं बचेंगे, किसी के घर में क्या चल रहा है ये जाने के लिए उत्सुकता न रखे घर की बात घर में ही रहने दे, जनता के हित के सवाल कीजिए

मीडिया के सामने तेजस्वी के निकले कड़वे बोल हमें परिवार की नहीं देश की चिंता है

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2018, 09:27 PM IST

पटना। राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (रिम्स) में भर्ती बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव से शनिवार को उनके छोटे बेटे और बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव मुलाकात करने पहुंचे। लालू की बेटी रागनी और दामाद राहुल भी तेजस्वी के साथ थे। इस दौरान तेजप्रताप के बारे में पूछे जाने पर तेजस्वी ने कहा-घर की बात घर में रहने दीजिए। पारिवारिक मामला है। जो भी चल रहा है, परिवार के लोग सक्षम है इन चीजों को देखने के लिए। तेजस्वी से जब तेजप्रताप के तलाक के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि आपकी बीवी क्या खाना बनाती है, मैं कभी नहीं पूछता तो आप लोग क्यों पारिवारिक सवाल पूछ रहे हैं। मैं आप लोगों को बता दूं कि प्रधानमंत्री से लेकर कोई नेता भी इन निजी सवालों का जवाब नहीं दे पाएगा।


तेजप्रताप यादव भी मिलने पहुंचे थे

इससे पहले तीन नवंबर को लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव 3 नवंबर को रिम्स पहुंचे थे। यहां उन्होंने लालू से मुलाकात की। लालू ने तलाक के मुद्दे पर तेजप्रताप को इंतजार करने और परिवार के साथ बैठकर बात करने की सलाह दी थी। पर तेज प्रताप नहीं माने। पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी देने के बाद से ही राजद प्रमुख लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव अबतक घर नहीं लौटे हैं। शादी के 175 वें दिन तेजप्रताप ने पटना सिविल कोर्ट स्थित परिवार न्यायालय में तलाक की अर्जी दाखिल की थी। इस पर 29 नवंबर को सुनवाई होगी। ​

दिन-ब-दिन बिगड़ रही लालू की तबीयत

तेजप्रताप के पत्नी से तलाक की अर्जी के मामले में मुलाकात और बातचीत के बाद भी रवैया नहीं बदलने से लालू प्रसाद यादव इन दिनों तनाव में हैं। रिम्स मेडिसिन विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. डीके झा ने बताया कि तनाव उनके लिए बुरा है। करीब 70 साल की उम्र में उन्हें 14 से 15 किस्म की दवाईयां दी जा रही हैं। ऐसे में तनाव लेना और सही तरीके से नींद न पूरी होने से उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर डाल सकता है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended