--Advertisement--

बांका के मोस्ट वांटेड ने रांची में भाई के साथ मिलकर पत्नी को मार डाला

लड़की के पिता ने अाठ लाेगाें पर कराई प्राथमिकी, बच्चा नहीं हाेने पर सास व ननद भी करती थी मारपीट

Danik Bhaskar | Aug 25, 2018, 03:22 AM IST
नूतन सिंह (फाइल फाेटो) नूतन सिंह (फाइल फाेटो)

बांका. मोस्ट वांडेट राजीव सिंह उर्फ बब्बू ने अपने भाइयों एवं परिजनों के साथ मिलकर अपनी पत्नी नूतन सिंह (40) की रांची के जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के लटमा रोड स्थित भाड़े के घर में हत्या कर दी। नूतन के पिता ने बताया कि हत्या काे अात्महत्या की शक्ल देने की कोशिश की गई। परिजनाें ने बताया कि पत्नी अपराध की दुनियां से अलग रहने के लिए हमेशा अपने पति राजीव सिंह पर दबाव बनाती थी। जिस कारण से उसकी हत्या कर दी गयी।

मृतका के पिता के बयान पर नूतन के पति, ससुर, देवर, सास, ननद, गोतनी के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी जगन्नाथपुर थाना में कराया है। सभी बांका जिला के धोरैया थाना क्षेत्र के जोगडीहा गांव के रहने वाले है। नूतन के परिजनों ने आरोप लगाया है कि बार-बार एक भी बच्चा नहीं होने की वजह से ससुराल वाले रोजाना मारपीट करते थे।

नूतन अपने पति को अपराधिक कुकृत्य से दूर रखना चाहती थी, इसी को लेकर नूतन के देवर आैर गोतनी नाराज रहते थे। नूतन को बुधवार को आभाष हाे गया था कि उसके पति व देवर सहित सभी परिजन मिलकर उसकी हत्या कर देंगे। इसी बात को लेकर वह अपने मायके अपनी भाभी को फोन पर आपबीती बात ही रही थी कि तभी पति एवं देवर उसपर हमला कर दिया।

भाभी फोन पर चीखने और चिल्लाने की आवाज सुनकर परेशान हो गई। अानन फानन में जब तक परिजनों को लेकर रांची पहुंचे तबतक नूतन की हत्या कर दी गई थी। हरेराम सिंह ने बताया कि हत्या के बाद शव को लापता करने की फिराक में ससुराल वाले थे तब तक हमलोग पहुंच गए। रांची स्थित जगन्नाथपुर पुलिस ने राजीव सिंह और देवर रंजीत सिंह को कस्टडी में ले लिया है।

पंचायती कर कुछ ही दिन पहले बुलाया था ससुराल
ससुराल वाले नूतन से बात-बात पर मारपीट करते थे। पति, देवर, सास, ससुर ननद और गोतनी भी हमेशा प्रताड़ित करती थी। इससे आजित होकर नूतन अपनी मायके में रहने लगी थी। कुछ ही दिन पहले ससुराल वालों ने पंचायती करके नूतन को रांची बुला था। पति राजीव सिंह ने अपने ससुर हरेराम सिंह से कहा कि अब नूतन के साथ मारपीट नहीं करेंगे। लेकिन, एक महीना भी नहीं बीता कि ससुराल वालों ने उसे मार डाला।

पीड़िता के पिता बोले- देवर करता था छेड़खानी
पिता ने बताया कि गर्मी में मौसम में बेटी छत पर थी। तभी अचानक देवर रंजीत सिंह ने बेटी को अकेला पाकर छेड़खानी की थी। नूतन ने इसकी जानकारी सास और ननद को दी। दोनों ने नूतन को डांट डपट कर नूतन को चूप करा दिया था। बाद में पति के कहने पर मामले को लेकर ज्यादा गंभीर नहीं रही थी।

राजीव पर हत्या, लूट और रेप के कई मामले हैं दर्ज
हत्यारोपी राजीव सिंह पर दो दर्जन से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। वह अपने भाई राजेश कमाडों के साथ मिलकर अपराध की दुनियां में कदम रखा और राजस्थान में कोटा के गैंगस्टर भानु प्रताप सिंह का शार्प शूटर बन गया। दो साल पहले बांका पुलिस की सहयोग से राजस्थान पुलिस की टीम ने राजेश को उसके पैतृक गांव जोगडीहा से गिरफ्तार किया था। लेकिन, शातिर राजीव सिंह पुलिस को चकमा देकर भागने में सफल रहा था। बांका के धोरैया थाना में कोटा थाना में दर्ज 1994/ 30 के तहत हत्या मामले में राजीव सिंह फरारी अभियुक्त भी है।