आदेश / पीएम किसान सम्मान योजना में लौटे 2.87 लाख आवेदन सुधार कर दें किसान: प्रेम कुमार



X

  • बैंक खाता आदि में गलती के कारण आवेदन लौटे
  • डीबीटी पोर्टल व dbtagriculture.bihar.gov.in पर आवेदन में सुधार कर सकते हैं

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 07:50 PM IST

पटना. पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभ से राज्य के 2,87,892 किसान वंचित हैं। क्योंकि इन किसानों के आवेदन त्रुटिपूर्ण पाए गए। किसानों के आवेदन में बैंक का नाम, आईएफएससी एवं खाता संख्या गलत है। किसान का नाम, बैंक खाता में दिए गए नाम के अनुरूप नहीं पाए गए। आवेदन में दिए गए बैंक खाता संख्या सक्रिय नहीं होने और बैंक खाता, बचत खाता या जन धन खाता नहीं हाने के मामले शामिल हैं। कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि आवेदन लौटाये गए किसानों की सूची कृषि विभाग के के वेबसाइट पर उपलब्ध है। 

 

डीबीटी पोर्टल और dbtagriculture.bihar.gov.in पर PM-Kisan अस्वीकृत आवेदन सूची में जिला व पंचायतवार किसानों के नाम से उपलब्ध है। पीएम किसान में त्रुटि सुधार पर जाकर ऐसे किसान आवश्यक सुधार कर सकते हैं। किसान खुद या सीएससी या वसुधा केंद्र से इसे सुधार कर सकते हैं। इसके लिए सत्यापन अनिवार्य है। इसमें कृषि समन्वयक और किसान सलाहकार से भी मदद ले सकते हैं।

 

अब तक राज्य के 59.23 लाख किसानों ने इस योजना में आवेदन किया है। पीएम किसान पोर्टल पर 43 लाख से अधिक किसानों का आवेदन अपलोड है। भारत सरकार अब तक 995 करोड़ राशि किसानों के खाता में भेज दिया है। प्रत्येक किसान परिवार को प्रति वर्ष इस योजना में 6 हजार रुपए की राशि देने का प्रावधान है। कृषि मंत्री ने विभाग के सभी क्षेत्रीय कर्मी और पदाधिकारियों को किसानों को इस योजना में आवेदन करने में मदद का निर्देश दिया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना