31 दिन पहले पानी के 23 सैंपल थे विषैले, अब बस 3

Patna News - राजधानी में सप्लाई वाटर से हानिकारक तत्व गायब हो गए हैं। तीसरी बार की जांच में तीन स्थानों (महेंद्रू, पटना सदर व...

Dec 04, 2019, 08:50 AM IST
Patna News - 31 days ago 23 samples of water were toxic now just 3
राजधानी में सप्लाई वाटर से हानिकारक तत्व गायब हो गए हैं। तीसरी बार की जांच में तीन स्थानों (महेंद्रू, पटना सदर व कंकड़बाग) के पानी में ही प्रदूषण की मात्रा मिली। पहली बार की जांच में 14 ताे दूसरी बार की जांच में कंकड़बाग व राजेंद्रनगर समेत 23 स्थानाें पर पानी प्रदूषित पाई गई थी। जलजमाव के बाद ये हानिकारक तत्व पेयजलापूर्ति लाइन से निकल रहे थे।

पटना नगर निगम की जलापूर्ति शाखा ने 16 से 18 अक्टूबर तक पहली बार राजधानी के 126 स्थानों से पानी के नमूने एकत्र किए गए थे। इन्हें राज्यस्तरीय पानी जांच प्रयोगशाला में भेजा गया था। प्रयोगशाला से 20 अक्टूबर को रिपोर्ट मिली, जिसमें 14 स्थानों के पानी में प्रदूषण की मात्रा पाई गई। इसके बाद जलापूर्ति शाखा ने विशेषज्ञों की राय ली। तब पता चला कि इसकी मुख्य वजह जलजमाव का है। 28 अक्टूबर को दोबारा 126 इलाकों से सैंपल लिए गए। इन सैंपलों में से 23 स्थानों के पानी में प्रदूषण की मात्रा अधिक पाई गई। इसमें प्लास्टिक प्रदूषण के तत्व भी थे। नगर निगम ने जलजमाव का असर खत्म होने के बाद फिर पानी की जांच कराने का फैसला किया।

तीन इलाकों में बोरिंग साफ कर क्लोरीनाइजेशन होगा

27 नवंबर को उक्त 23 इलाकों के पानी के नमूनों लिए गए, इनमें महज तीन में गड़बड़ी मिली। जलापूर्ति शाखा के कार्यपालक पदाधिकारी राम वल्लभ साह ने बताया कि इन इलाकों के बोरिंग को साफ किया जाएगा। क्लोरीनाइजेशन के जरिए इन्हें प्रदूषणमुक्त किया जाएगा। प्रक्रिया को पूरी करने के लिए बाहर से कंपनी को बुलाया जाएगा। एएन कॉलेज बायोटेक्नोलॉजी विभाग के फैकल्टी मनीष कंठ के मुताबिक भूगर्भ जल में प्रदूषित पानी की मात्रा बाहर से जाती है और उसकी मात्रा कम हो तो वहां से पानी निकालने से प्रदूषण का असर खत्म हो जाता है।

X
Patna News - 31 days ago 23 samples of water were toxic now just 3
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना