--Advertisement--

352वां प्रकाशोत्सव / नगर कीर्तन शोभायात्रा पर हुई पुष्पवर्षा, गतका दल ने दिखाए करतब

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2019, 03:08 PM IST


गुरु की नगरी पटना साहिब में चारों ओर बोले सो निहाल सत श्री अकाल का नारा गूंज उठा। गुरु की नगरी पटना साहिब में चारों ओर बोले सो निहाल सत श्री अकाल का नारा गूंज उठा।
देश-विदेश से पहुंचे हजारों श्रद्धालुओं ने भाग लिया। देश-विदेश से पहुंचे हजारों श्रद्धालुओं ने भाग लिया।
शोभायात्रा अशोक राजपथ के रास्ते तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब के लिए गाजे-बाजे के साथ निकली।  शोभायात्रा अशोक राजपथ के रास्ते तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब के लिए गाजे-बाजे के साथ निकली। 
बाललीला में गुरु जी महाराज का जन्मोत्सव 14 जनवरी को मनाया जाएगा। बाललीला में गुरु जी महाराज का जन्मोत्सव 14 जनवरी को मनाया जाएगा।
352 Prakash Utsav Patna sahib Flowering on the Kirtan Shobayatra
गतका दल ने दिखाए करतब। गतका दल ने दिखाए करतब।
X
गुरु की नगरी पटना साहिब में चारों ओर बोले सो निहाल सत श्री अकाल का नारा गूंज उठा।गुरु की नगरी पटना साहिब में चारों ओर बोले सो निहाल सत श्री अकाल का नारा गूंज उठा।
देश-विदेश से पहुंचे हजारों श्रद्धालुओं ने भाग लिया।देश-विदेश से पहुंचे हजारों श्रद्धालुओं ने भाग लिया।
शोभायात्रा अशोक राजपथ के रास्ते तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब के लिए गाजे-बाजे के साथ निकली। शोभायात्रा अशोक राजपथ के रास्ते तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब के लिए गाजे-बाजे के साथ निकली। 
बाललीला में गुरु जी महाराज का जन्मोत्सव 14 जनवरी को मनाया जाएगा।बाललीला में गुरु जी महाराज का जन्मोत्सव 14 जनवरी को मनाया जाएगा।
352 Prakash Utsav Patna sahib Flowering on the Kirtan Shobayatra
गतका दल ने दिखाए करतब।गतका दल ने दिखाए करतब।

  • गुरुजी महाराज की पालकी जिस मार्ग से गुजरी, लोगों ने स्वागत कर आशीष लिया
  • शोभायात्रा में देश-विदेश से पहुंचे हजारों श्रद्धालुओं ने भाग लिया

पटना. दशमेश पिता श्री गुरु गोविंद सिंह महाराज के 352वें प्रकाश पर्व पर शनिवार को बड़ी संगत गुरुद्वारा गायघाट से निकली नगर कीर्तन शोभायात्रा में देश-विदेश से पहुंचे हजारों श्रद्धालुओं ने भाग लिया। गुरु की नगरी पटना साहिब में चारों ओर बोले सो निहाल सत श्री अकाल का नारा गूंज उठा। गुरु जी महाराज की पालकी जिस मार्ग से गुजरी, सड़क के दोनों किनारे खड़े लोगों ने स्वागत कर आशीष लिया।

 

विभिन्न प्रदेशों से पहुंची संगत शबद कीर्तन करते चल रही थी, जबकि पंजाब से पहुंचा युवाओं का दल गतका का करतब दिखला कर लोगों को आकर्षित कर रहा था। बड़ी संगत गुरुद्वारा में अखंड पाठ की समाप्ति व विशेष दीवान के बाद पंज प्यारों की अगुवाई में नगर कीर्तन शोभायात्रा अशोक राजपथ के रास्ते तख्त श्री हरिमंदिर जी पटना साहिब के लिए गाजे-बाजे के साथ निकली। 

 

बादशाह दरवेश गुरु गोविंद सिंह..., तुम हो सब राजन के राजा..., तही प्रकाश हमारा भयो, पटना शहर बिखै भव लयो..., पंथ चले तब जगत मैं, जब तुम करहु सहाइ...सरीखे शबद कीर्तन के साथ संगत भावविभोर होते हुए चल रही थी। पालकी साहिब की सेवा तख्त के जत्थेदार ज्ञानी इकबाल सिंह कर रहे थे। नगर कीर्तन अशोक राजपथ के रास्ते तख्त साहिब देर शाम तख्त श्री हरिमंदिर जी साहिब पहुंची।

 

आकर्षक सजावट, कीर्तन दरबार में निहाल हुई संगत 
नगर कीर्तन के तख्त साहिब में पहुंचते ही पूरा माहौल भक्ति व श्रद्धा के वातावरण में डूब गया। दरबार साहिब के बगल में विशेष पंडाल बनाया गया है। चारों ओर प्राकृतिक फूलों व लाइट से सजावट हुई है। ज्ञानी रणजीत सिंह गौहर-ए-मस्कीन व शरोमणि कथा वाचक ज्ञानी पिंदरपाल सिंह लुधियाना व जत्थेदार ज्ञानी इकबाल सिंह ने कथा की। 

 

इसके बाद कीर्तन दरबार में संत ज्ञानी अमीर सिंह जी मुखी जवदी कला टकसाल, कथा वाचक भाई साहिब ज्ञानी पिंदरपाल सिंह, रतन बाबा इकबाल सिंह बडू साहिब, दविंदर सिंह जी खालसा खन्ने वाले ने देर रात तक शबद कीर्तन कर संगत को निहाल कर किया। संचालन जत्थेदार ज्ञानी इकबाल सिंह ने किया। कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री एसएस आहलूवालिया सहित प्रबंधक समिति के सदस्य व पदाधिकारी शामिल हुए। बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद थे। 

 

बाललीला मैनी संगत गुरुद्वारा में जन्मोत्सव 14 जनवरी को 
बाल लीला मैनी संगत गुरुद्वारा में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है। देश-विदेश से पहुंचे संगत गुरु जी महाराज के जन्मकाल से जुड़ी स्मृतियों का दर्शन करने के लिए पहुंच रही है। यहां संत बाबा कश्मीर सिंह भूरीवाले की देखरेख में अटूट लंगर चल रहा है। बाललीला में गुरु जी महाराज का जन्मोत्सव 14 जनवरी को मनाया जाएगा। इस सिलसिले में शुक्रवार से पाठ रखा गया है। बाबा सुखविंदर सिंह व बाबा गुरविंदर सिंह ने बताया कि जन्मोत्सव समारोह में भाग लेने के लिए देश के संत पहुंच रहे हैं। 

Astrology
Click to listen..