विज्ञापन

भास्कर ब्रेकिंग : 6 किलोमीटर लंबी दीघा-आर ब्लॉक रेल लाइन की जगह बनेगी 6 लेन की सड़क

Dainik Bhaskar

Apr 12, 2018, 04:58 AM IST

पटनावासियों को फायदे की जगह इस लाइन को क्रास करने वाली कई सड़कों पर हर रोज जाम झेलना पड़ता है।

6 lane road will be built In place of 6 km long Digha R Block rail line
  • comment

पटना. दीघा- आर ब्लॉक रेल लाइन की जमीन पर गाड़ियां दौड़ेंगी। 6 किलोमीटर इस लंबी रेल ट्रैक पर 6 लेन सड़क बनेगी। सड़क के बीच में एलिवेटेड मेट्रो दौड़ाने की भी योजना है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पथ निर्माण विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। रेलवे के इस 6 किलोमीटर लंबाई और 30 मीटर चौड़ाई वाले कुल 71 एकड़ जमीन के पुनर्मूल्यांकन के बाद लागत 221 करोड़ रुपए तय की है।


इस रेलवे लाइन पर तत्कालीन रेलमंत्री लालू ने शुरू कराया था सवारी गाड़ी

रेलवे अब तक इस 71 एकड़ जमीन का बाजार दर (व्यावसायिक मूल्य) 896 करोड़ तय कर उसके हिसाब से राज्य सरकार से पैसा मांग रहा था। पर राज्य सरकार इस मूल्य पर जमीन लेने को तैयार नहीं थी। केन्द्र और राज्य के बीच यह जिच 7 साल से बरकरार था। बिहार ने स्पष्ट कर दिया कि जमीन लंबी होने के कारण इसका कोई व्यावसायिक उपयोग नहीं हो सकता। ऐसे में इस जमीन को व्यावसायिक मान कर उस हिसाब से मूल्य तय करना तर्कसंगत नहीं है। आर ब्लॉक-दीघा रेल लाइन पर रेल चलाने पर हर वर्ष रेल मंत्रालय को 1 करोड़ से ऊपर खर्च आता है पर सालाना आय मात्र 60 हजार रुपए है। महज 20 किलोमीटर की रफ्तार से चलने वाली ट्रेन में बमुश्किल 20-25 लोग सफर करते हैं। वर्ष 2004 में तत्कालीन रेलमंत्री लालू प्रसाद ने सवारी गाड़ी का परिचालन शुरू कराया था।

अजब लाइन का गजब सफर

- यह रेल लाइन 150 साल पुरानी है। अंग्रेजों ने दीघा के गोदाम तक अनाज पहुंचाने के लिए इसे बनाया।

- बाद में लाइन बंद हो गई। पटरियां टूटी। स्लीपर लापता हुए।

- 2004 में तत्कालीन रेल मंत्री लालू प्रसाद ने इस लाइन पर सवारी गाड़ी शुरू कराई

- तीन बोगी की ट्रेन दो फेरे लगाती है, यात्री महज 15 से 20।

इसी वर्ष मिल जाएगी जमीन, राजधानी के पश्चिमी इलाके में जाम से मिलेगी राहत

पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने केन्द्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल के समक्ष पूरे मामले को रखा तो राजधानी पटना की जरूरत को देखते हुए उन्होंने राज्य सरकार के तर्क को मानते हुए बात आगे बढ़ाने की सहमति प्रदान कर दी। इसके बाद जमीन का पुनर्मूल्यांकन करवाया गया तो 71 एकड़ जमीन की लागत 221 करोड़ पर आ गई। अब इस नए मूल्य पर जमीन हस्तांतरण का प्रस्ताव केन्द्र को भेज दिया गया है। पथ निर्माण मंत्री ने कहा कि इस एलाइनमेंट पर सड़क का निर्माण बहुत ही जरूरी है। केन्द्र की सहमति और सीएम की मंजूरी के बाद राजधानी के बीचोंबीच 6लेन सड़क बनने की सभी तकनीकी बाधाएं दूर हो गई हैं।

अार ब्लॉक से दीघा की दूरी दो किमी कम हो जाएगी, एक घंटे से घटकर 15 मिनट रह जाएगा पहुंचने का समय
पटना के सबसे भीड़-भाड़ वाले इलाके आर ब्लॉक से दीघा तक फिलहाल सर्पेंटाइन रोड, बोरिंग केनाल रोड, गांधी मैदान-दीघा रोड होते कुल 8 किमी. की दूरी तय करने में करीब एक घंटा का समय लगता है। पर इस नये एलाइनमेंट पर सड़क बनने के बाद आर ब्लॉक से सचिवालय की दूरी सवा किमी हो जाएगी तो सचिवालय से राजीव नगर की दूरी मात्र 3 किमी. तय करनी होगी। राजीव नगर से दीघा की दूरी सिर्फ 2 किमी हो जाएगी।

फायदा
पटनावासियों को फायदे की जगह इस लाइन को क्रास करने वाली कई सड़कों पर हर रोज जाम झेलना पड़ता है। सड़क बन जाने से आर ब्लॉक से बेली रोड और दीघा की ओर जाने तथा दानापुर, दीघा, कुर्जी, राजीव नगर, पाटलिपुत्र, बोरिंग रोड की तरफ से पटना शहर आने वालों को राहत मिलेगी। जेपी सेतु तक पहुंचने का रास्ता भी आसान हो जाएगा।

6 lane road will be built In place of 6 km long Digha R Block rail line
  • comment
X
6 lane road will be built In place of 6 km long Digha R Block rail line
6 lane road will be built In place of 6 km long Digha R Block rail line
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें