कॉपी जांच में गड़बड़ी करनेवाले 70 शिक्षक निलंबित

Patna News - सीबीएसई 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा 2019 में कॉपी जांच में गड़बड़ी करनेवाले 70 से अधिक शिक्षकों को निलंबित करने के लिए...

Oct 12, 2019, 08:45 AM IST
सीबीएसई 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा 2019 में कॉपी जांच में गड़बड़ी करनेवाले 70 से अधिक शिक्षकों को निलंबित करने के लिए कहा गया है। इन शिक्षकों के खिलाफ विस्तृत जांच का निर्देश सीबीएसई ने दिया है। जिन शिक्षकों ने गड़बड़ी की है उन स्कूलों को इस संबंध में नोटिस भेजा गया है। सीबीएसई पटना रीजनल ऑफिस की ओर से कार्रवाई के लिए पत्र जारी किया गया है। इन शिक्षकों में हेड एक्जामिनर व कोऑर्डिनेटर शामिल हैं। शिक्षकों ने कॉपी से मार्क्स को कंप्यूटर पर इंट्री करने में गड़बड़ी की। सीबीएसई ने खुद इस मामले को पकड़ा।

जांच पूरी होने तक निलंबित रहेंगे शिक्षक

शिक्षकों पर आरोप है कि उन्होंने 2019 की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में छात्रों को गलत अंक दिए। सीबीएसई की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि मामले की गंभीरता को देखते हुए और शिक्षक की गलती पर विस्तृत जांच की जाएगी। शिक्षक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी तब तक ये शिक्षक निलंबित रहेंगे। जांच के लिए सारी चीजें रीजनल ऑफिस पटना की ओर से प्रदान की जाएगी। स्कूलों को कहा गया है कि पत्र मिलने के 10 दिनों के अंदर यह बताएं कि क्या कार्रवाई की गई। सीबीएसई के सिटी कोऑर्डिनेटर डॉ. राजीव रंजन सिन्हा ने बताया कि कॉपियों का मूल्यांकन के बाद कंप्यूटर पर इंट्री के दौरान गलती हुई थी। हेड एक्जामिनर को इस मामले में नोटिस दिया गया है। हालांकि उन्होंने कहा कि इस गलती का रिजल्ट पर कोई असर नहीं पड़ा था। क्योंकि गलत अंकों में रिजल्ट जारी होने से पहले ही सुधार कर लिया गया था।

जिसे 44 अंक मिले उसे 32 चढ़ा दिया | मूल्यांकन के बाद कॉपियों को कंप्यूटर पर इंट्री में शिक्षकों ने बड़ी लापरवाही की। सीबीएसई की ओर से पकड़े गए मामले के अनुसार एक छात्र को एक विषय में 44 अंक मिले थे। जबकि हेड एक्जामिनर ने 32 अंक चढ़ा दिया। रिजल्ट तैयार करने के दौरान मुख्य परीक्षकों की टीम ने सभी अंकों व कॉपियों को दोबारा देखा था। इसमें गड़बड़ियां पकड़ में आई थीं।

पिछले साल 45 पर हुई थी कार्रवाई | केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षा की कॉपियों के मूल्यांकन में गड़बड़ी करनेवाले शिक्षकों पर पिछले साल भी कार्रवाई की थी। देशभर से 130 शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की थी। इनमें सबसे अधिक गलतियां पटना के शिक्षकों के द्वारा की गई थी। यहां के 45 शिक्षक बोर्ड की साख को खराब करने और छात्रों की करियर से खिलवाड़ करते पाए गए थे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना