--Advertisement--

बाल विवाह-दहेज प्रथा के खिलाफ 13660 KM लंबी मानव श्रृंखला, 5 करोड़ लोग पहुंचने का दावा

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गांधी मैदान में खड़े होंगे। वे 11:45 बजे यहां पहुंचेंगे।

Dainik Bhaskar

Jan 21, 2018, 05:14 AM IST
पिछले साल पटना के गांधी मैदान में नशा मुक्त बिहार के लिए ऐसे बनी थी मानव श्रृंखला। पिछले साल पटना के गांधी मैदान में नशा मुक्त बिहार के लिए ऐसे बनी थी मानव श्रृंखला।

पटना. बालविवाह और दहेज प्रथा को जड़ से मिटाने के संकल्प के साथ बिहारवासी रविवार को इतिहास कायम करने सड़क पर उतरेगा। दिन में 12 से 12:30 बजे तक पांच करोड़ से अधिक बिहारवासी मानव शृंखला बनाएंगे। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गांधी मैदान में खड़े होंगे। वे 11:45 बजे यहां पहुंचेंगे। उनके साथ डिप्टी सीएम सुशील मोदी, विधानसभा के स्पीकर विजय कुमार चौधरी और वरीय अधिकारी भी रहेंगे। ऊर्जा मंत्री विजेंद्र यादव मधेपुरा में मानव शृंखला में शामिल होंगे। सरकार के अन्य मंत्री अपने प्रभार वाले जिलों में मौजूद रहेंगे। जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह और राज्यसभा में जदयू के नेता रामचंद्र प्रसाद सिंह स्ट्रैंड रोड में मानव शृंखला में शामिल होंगे।

दिन में 12 से 12:30 तक शृंखला

इस बीच राज्य सरकार ने मानव शृंखला के दौरान यातायात बाधित नहीं होने का भरोसा दिया है। मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह और डीजीपी पी.के.ठाकुर ने सभी डीएम और एसपी को जिले में वैकल्पिक सड़कों के जरिए यातायात व्यवस्था दुरुस्त रखने का आदेश दिया है। राज्य सरकार ने आदेश में स्पष्ट कर दिया है कि बिहार में 87 हजार किलोमीटर पक्की सड़क है। इसमें 13660 हजार किलोमीटर पक्की और कच्ची सड़कों पर ही मानव शृंखला बनाई जा रही है। इसलिए यातायात पर विशेष असर नहीं पड़ने वाला है।

एक से पांच तक के बच्चे नहीं लेंगे भाग
स्कूली बच्चों खास कर कक्षा एक से पांच तक के बच्चों को शामिल नहीं होंगे। कक्षा 6 से ऊपर के बच्चे अभिभावक के साथ या उनकी अनुमति से ही मानव शृंखला का हिस्सा बनेंगे। साक्षरताकर्मी, जीविका दीदी, विकास मित्र और सक्रिय सामाजिक कार्यकर्ताओं अभिभावकों और सामान्य इसका हिस्सा बनेंगे। । दहेज प्रथा और बाल विवाह के खिलाफ मानव शृंखला पर डाक्यूमेंट्री फिल्म राज्य के 127 सिनेमाघरों में दिखायी जाएगी। सेटेलाइट की जगह ड्रोन से मानव शृंखला की फोटोग्राफी होगी।

पिछले वर्ष 21 जनवरी को शराबबंदी के खिलाफ खड़े हुए थे 4 करोड़ लोग
पिछले वर्ष 21 जनवरी को शराबबंदी के पक्ष में मानव शृंखला बनी थी जिसमें चार करोड़ लोगों ने शिरकत की थी। इस बार 5 करोड़ से अधिक लोगों को जुटाने का लक्ष्य रखा गया है। शराबबंदी के पक्ष में बनी मानव शृंखला को लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में सबसे बड़ी मानव शृंखला के रूप में स्थान मिला है। पिछले वर्ष इसरो के सैटेलाइट से फोटोग्राफी हुई थी। इस वर्ष ड्रोन से फोटोग्राफी-विडियोग्राफी होगी। इस वर्ष मानव शृंखला के लिए सभी आयुक्त को जिम्मेदारी मिली है।

गांधी मैदान से निकलेगी शृंखला, सीएम करेंगे शुरुआत

बाल विवाह और दहेजप्रथा के खिलाफ रविवार की दोपहर 12 से 12.30 बजे तक मानव शृंखला बनेगी। पटना जिले में 588 किलोमीटर मानव शृंखला बनेगी। इसमें 170 किमी मुख्य मार्ग व 256 किमी सब मार्ग है। शुरुआत गांधी मैदान से होगी। प्रतिभागियों को सुबह 9.30 बजे तक गांधी मैदान पहुंचना है। यहां से चार दिशाओं में मानव शृंखला निकलेगी। बिहार के कोने-कोने तक जाने वाली मानव शृंखला का शुभारंभ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करेंगे। जिन मार्गों पर मानव शृंखला बनेगी उनपर सुबह 10 बजे से 2.30 बजे तक निजी वाहनों का परिचालन बंद रहेगा। इससे पहले सुबह 9 बजे से ही व्यावसायिक वाहनों का परिचालन रोक दिया जाएगा। ट्रैफिक एसपी पीके दास ने कहा कि एंबुलेंस, अग्निशामक, न्यायिक कार्य से जुड़े वाहन, पासधारक वाहन, स्टेशन व एयरपोर्ट जाने वाले वाहनों को दूसरे लेन से 20 किमी की स्पीड में जाने की अनुमति दी जाएगी। जिन मार्गों पर मानव शृंखला नहीं बनेगी, उन पर वाहनों को चलने की अनुमति होगी।

गांधी मैदान : 1000 से अधिक मजिस्ट्रेट व सुरक्षा बल रहेंगे तैनात

गांधी मैदान के अंदर और बाहर 1000 से अधिक मजिस्ट्रेट, पुलिस पदाधिकारी और सुरक्षा बल तैनात रहेंगे। शनिवार को गांधी मैदान का निरीक्षण करने के बाद डीएम संजय कुमार अग्रवाल ने प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों, दंडाधिकारियों, पुलिस पदाधिकारियों की ब्रीफिंग की। सुबह 8 बजे सभी को-ऑर्डिनेटर अपने-अपने स्थान पर उपस्थित रहेंगे। प्रत्येक एक किलोमीटर पर एएनएम की प्रतिनियुक्ति की गई है। किसी प्रतिभागी की स्वास्थ्य खराब होते ही तत्काल एएनएम को जानकारी देनी है। गांधी मैदान में वीवीआईपी व पासधारक वाहनों का प्रवेश गांधी मैदान के गेट नंबर 10 से होगा। मुख्यमंत्री के दाएं-बाएं पांच-पांच हिन्दू, मुस्लिम, सिख, ईसाई धर्म के धर्मगुरु उपस्थित रहेंगे। गांधी मैदान के चारों कोने पर बाल विवाह और दहेज उन्मूलन के स्लोगन के साथ चार विशालकाय हाइड्रोजन बैलून लगाया जाएगा। जिले की कुल आबाद 60 से 65 लाख है। इनमें से 15 लाख लोग मानव श्रृंखला का हिस्सा बनेंगे।

गांधी मैदान में गेट नंबर एक, पांच, सात और दस से मानव श्रृंखला बनेगी। गांधी मैदान में गेट नंबर एक, पांच, सात और दस से मानव श्रृंखला बनेगी।
X
पिछले साल पटना के गांधी मैदान में नशा मुक्त बिहार के लिए ऐसे बनी थी मानव श्रृंखला।पिछले साल पटना के गांधी मैदान में नशा मुक्त बिहार के लिए ऐसे बनी थी मानव श्रृंखला।
गांधी मैदान में गेट नंबर एक, पांच, सात और दस से मानव श्रृंखला बनेगी।गांधी मैदान में गेट नंबर एक, पांच, सात और दस से मानव श्रृंखला बनेगी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..