--Advertisement--

नेट बैंकिंग और चेक बुक के आवेदन के लिए भी सभी बैंक ग्राहकों से वसूली जाएगी कीमत

बैंक उपभोक्ताओं से तमाम नि:शुल्क सेवाओं के लिए शुल्क वसूलने की तैयारी पूरी कर ली है।

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 06:43 AM IST
Banking services to be expensive from January 20

पटना (बिहार). 20 जनवरी से किसी भी बैंक की शाखा में जाकर बैंकिंग सेवा लेना महंगा हो जाएगा। सभी सरकारी और निजी क्षेत्र की बैंक शाखाओं में दी जाने वाली उन तमाम सेवाओं के लिए शुल्क वसूलने की तैयारी पूरी कर ली है, जो अबतक मुफ्त है। कुछ सुविधाओं के लिए शुल्क की समीक्षा की जा रही है इन सुविधाओं में पैसा निकालने जमा करने, मोबाइल नंबर बदलवाने, केवाईसी, पता बदलवाने, नेट बैंकिंग और चेक बुक के लिए आवेदन करने जैसी सुविधाएं शामिल है। जिस बैंक की शाखा में आपका खाता है, उससे अलग किसी दूसरी शाखा में जाकर बैंकिंग सेवा लेने पर भी अलग से शुल्क लिया जायेगा। शुल्क पर 18 प्रतिशत का जीएसटी भी लगेगा।

भास्कर नॉलेज : जानिए, इन सुविधाओं पर लगेगा सेवा शुल्क

- चेक से 50 हजार तक खाताधारक के स्वयं की एक निकासी पर 10 रुपए।

- चेक से 10 हजार तक खाताधारक के अलावे अन्य की एक निकासी पर 10 रुपए।
- बचत खाता में 1 दिन में अधिकतम 50 हजार से अधिक नकद जमा करने पर 2.50 रु. प्रति हजार।
- सीए, सीसी खाता में 25 हजार से अधिक जमा करने पर 2.50 रु. प्रति हजार।

- पासबुक अपडेट कराने पर (प्रति अपडेट) 10 रुपए।

- बैलेंस स्टेटमेंट (प्रति स्टेटमेंट) 25 रुपए।

सभी बैंक उपभोक्ताओं से सेवा शुल्क वसूलने की तैयारी

लखीसराय एसबीआई के सीनियर मैनेजर सुधीर कुमार ने बताया कि बैंक उपभोक्ताओं से तमाम नि:शुल्क सेवाओं के लिए शुल्क वसूलने की तैयारी पूरी कर ली है। 20 जनवरी से इसे लागू किया जाएगा। आरबीआई के निर्देशों के अनुसार बैंक उपभोक्ताओं से तय सेवा शुल्क वसूल किया जाएगा। सेवा शुल्क की राशि खाताधारकों के खाता से काटा जाएगा।

बैंक अपनी सेवाएं भी सुधारें

चाटर्ड एकाउंटेंट संजीत कुमार ने बताया कि आम लोगों को परेशानी तो होगी लेकिन बैंकिंग सेवाओं के नाजायज उपयोग पर भी रोक लगेगी। बैंक शुल्क वसूलें तो सेवा भी तीव्र और सुविधा जनक होनी चाहिए।

शुल्क न्यायोचित नहीं

बैंक कस्टमर गौतम कुमार ने कहा कि अबतक मिल रही मुफ्त सेवाओं में सेवा शुल्क तय करने से लोगों को अतिरिक्त खर्च उठाना पड़ेगा। सभी बैंक ग्राहकों की निश्चित रूप से परेशानी बढ़ेगी, यह गलत निर्णय है।

छोटी-छोटी सेवाओं पर भी होगी आपकी जेब ढीली

- हस्ताक्षर सत्यापन/फोटो अभिप्रमाणित 50 रुपए।

- डीडी0/पीओ/ईसीएस प्रति रिक्वेस्ट 25 रुपए।

- चेक डिपोजिट प्रति चेक 10 रुपए।

- फंड ट्रांसफर 2 लाख तक प्रति रिक्वेस्ट 25 रुपए।

- इंटरेस्ट सर्टिफिकेट प्रति सर्टिफिकेट 50 रुपए।
- फंड ट्रांसफर 2 लाख से अधिक पर प्रति रिक्वेस्ट 50 रुपए।
- केवाईसी अपडेट कराने का शुल्क 25 रुपए।

- मोबाइल नंबर एवं पत्राचार पता बदलने पर 25 रुपए।

- डुप्लीकेट पासबुक बनवाना हो तो 50 रुपए।

- इन्टरनेट/मोबाइल बैंकिंग के लिए 25 रुपए।

- डेबिट कार्ड के लिए 25 रुपए का मासिक शुल्क।

जानिए कैसे आपके पॉकेट पर बढ़ेगा बोझ

- 20 जनवरी से आपके लिए बैंक जाना पड़ सकता है महंगा।

- 18 प्रतिशत जीएसटी लगेगा जमा राशि के इंटरेस्ट पर।

- 10 रुपए का शुल्क लगेगा पासबुक अपडेट कराने पर।

- 50 रुपए देने होंगे डुप्लीकेट पासबुक के लिए।

- छोटी-बड़ी मुफ्त में दी जाने वाली सेवाओं के लिए भी लगेंगे शुल्क।

- सभी बैंक के खाताधारियों के खाते से काटी जाएगी राशि।

X
Banking services to be expensive from January 20
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..