Hindi News »Bihar »Patna» Barnar River Water Better Than Water Purifiers

बिहार में इस घाट का पानी वाटर प्यूरीफायर से बेहतर, नहीं होती कोई बीमारी

डब्ल्यूएचओ के अनुसार 100 से 200 टीडीएस स्तर वाले पानी को ठीक बताया है।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 08, 2018, 05:16 AM IST

  • बिहार में इस घाट का पानी वाटर प्यूरीफायर से बेहतर, नहीं होती कोई बीमारी
    बरनार नदी के इस घाट के पानी को वाटर प्यूरीफायर से फी शुद्ध बताया जा रहा है।

    सोनो (बिहार). बरनार नदी के कोड़िया घाट का पानी आज भी फिल्टर वाले पानी से बेहतर है। यहां के पानी का टीडीएस स्तर 80 से 150 एमजी प्रति लीटर के बीच है, जो स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक है। दरअसल, अलग-अलग जगहों का पानी का टीडीएस (टोटल डिजाल्व सॉलिड) स्तर अलग-अलग होता है। डब्ल्यूएचओ के अनुसार 100 से 200 टीडीएस स्तर वाले पानी को ठीक बताया है। खैरा महाराज के पीने के लिए पानी यही से जाता था।

    लाभदायक है यह पानी

    विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 100 से 200 MG प्रति लीटर टीडीएस वाले पानी को पीने के लिए लोगों को सलाह दी है। बरनार नदी के कोड़िया घाट के पानी का टीडीएस स्तर 80 से 100 के बीच है। यहां का पानी स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है तथा पीने में मीठा लगता है।

    टीडीएस लेवल 80 से ऊपर

    वाटर प्यूरीफायर लगाने वाले सर्विस इंजीनियर नवीन कुमार का कहना है कि प्यूरीफायर का टीडीएस स्तर 60 से ऊपर निर्धारित किया जाता है, जो अच्छा माना जाता है। कुड़िया घाट का पानी का टीडीएस लेवल 80 से अधिक आता है जो वाटर प्यूरीफायर के पानी से बेहतर है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×