पटना

--Advertisement--

अब बकरी के दूध की मार्केटिंग करेगी सरकार, अफसरों को सीएम का टास्क

सीएम ने 461 करोड़ रुपये की लागत से विभिन्न विकास की योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास भी किया।

Danik Bhaskar

Dec 16, 2017, 05:00 AM IST

जारंग (मुजफ्फरपुर). गांव की महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त करने की दिशा में प्रदेश सरकार नई पहल करेगी। बकरी पालन करने वाली महिलाओं को बाजार उपलब्ध कराया जाएगा। मांग बढ़ने के बाद बकरी दूध को अब महानगरों तक भेजने की व्यवस्था की जाएगी। ताकि, बकरी पालन करने वाली महिलाओं को दूध की अधिक से अधिक कीमत मिल सके। विकास समीक्षा यात्रा के दौरान शुक्रवार को गायघाट प्रखंड के जारंग गांव की बकरी पालने वाली महिलाओं से बातचीत के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अफसरों को बकरी दूध की मार्केटिंग की व्यवस्था करने को कहा।


बकरी पालने वाली महिला रंजीता देवी को भी सीएम ने बताया कि दिल्ली में बकरी दूध की सबसे अधिक मांग है। यदि एक बकरी डेढ़ लीटर दूध देती है तो दिल्ली जैसे शहरों में इसकी काफी कीमत मिल जाएगी। साथ चल रहे अफसरों को उन्होंने जीविका के माध्यम से बकरी पालन को बढ़ावा देने का निर्देश दिया।

सीएम ने 461 करोड़ की योजनाओं का किया उद्घाटन व शिलान्यास

सीएम ने 461 करोड़ रुपये की लागत से विभिन्न विकास की योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास भी किया। आम सभा को प्रभारी मंत्री पशुपति कुमार पारस, नगर विकास मंत्री सुरेश कुमार शर्मा, विधायक महेश्वर प्रसाद यादव, मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह तथा डीजीपी पीके ठाकुर ने भी संबोधित किया।

जन जागृति से ही खत्म होगी बाल विवाह व दहेज प्रथा की कुरीति

सीएम ने कहा कि बाल-विवाह तथा दहेज प्रथा के उन्मूलन से ही महिलाएं सशक्त होंगी। बाल विवाह व दहेज प्रथा से समाज को छुटकारा के लिए आम जन को इस अभियान में शामिल होना होगा। शराबबंदी की सफलता के बाद 21 जनवरी को आयोजित मानव श्रृंखला का रिकॉर्ड तोड़ने के लिए बाल-विवाह तथा दहेज प्रथा के खिलाफ 21 जनवरी 2018 को पूरे सूबे में एक बार फिर मानव श्रृंखला का आयोजन होगा। सीएम ने कहा कि इस बार ग्रामीण सड़कों पर भी मानव श्रृंखला बनायी जाएगी।

चार साल में हर गली होगी पक्की, अगले साल तक हर घर में बिजली

गांव का जायजा लेने के बाद जारंग हाईस्कूल में आमसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि अगले चार साल के अंदर सूबे के हर घर तक नल से जल पहुंचा दिया जाएगा। सभी गली में पक्की सड़क के साथ पक्का नाला का भी निर्माण होगा। वहीं, एक साल के अंदर सभी घरों में बिजली की आपूर्ति सुनिश्चित करायी जाएगी। लोहिया स्वच्छता योजना के तहत शौचालय बनाकर सभी गांव को खुले में शौच से मुक्त किया जा रहा है।

मधुबनी में खुलेगा मेडिकल कॉलेज

मुख्यमंत्री ने मधुबनी में 224.9 करोड़ की योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि बिहार में पांच नए मेडिकल कॉलेजों में एक मधुबनी में भी खुलेगा। सीएम ने दरभंगा में विकास योजनाओं की देर रात समीक्षा भी की।

Click to listen..