--Advertisement--

जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में बिहार का जवान शहीद, 1 जनवरी को किया था ज्वाइन

अंकित राजकुमार उर्फ सीटू कुमार जम्मू कश्मीर के लदाख में भारी बर्फबारी के दौरान भूस्खलनं में शहीद हो गये।

Danik Bhaskar | Jan 07, 2018, 08:29 AM IST

शेखपुरा. जिले चेवाड़ा थाना क्षेत्र के एकाढा गांव के रहने वाले 24 वर्षीय आर्मी जवान अंकित राजकुमार उर्फ सीटू कुमार जम्मू कश्मीर के लदाख में भारी बर्फबारी के दौरान भूस्खलनं में शहीद हो गये। वे सेक्टर 10 में तैनात थे। शहीद जवान एकाढा गांव निवासी किसान आमोद प्रसाद सिंह उर्फ मंटू सिंह के बेटे थे।

शुक्रवार की देर शाम को जवान के शहीद होने की खबर घर वालों को मिली जिसके बाद घर के साथ ही पूरे एकाढा गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया। तीन भाईयों में सीटू मंझले पुत्र थे। जवान के शहीद होने की खबर मिलने के साथ ही शनिवार को परिजनों के साथ ही अन्य लोगों का आने -जाने का तांता लगा रहा और दुख की इस घड़ी में उनके माता -पिता व अन्य परिजनों को धैर्य बंधाते रहे। हालाँकि शहीद जवान का शव आने की प्रतीक्षा की जा रही है। उनका शव रविवार के दिन पहुंचने की उम्मीद है।

पिता के आंखों में था घर बसाने का सपना


24 बर्षीय सीटू कुमार की परिवारवाले जल्द ही शादी कर उनका घर बसाने का सपना देख रहे थे। इसके लिये सगे संबंधियों में चर्चा भी चल रही थी। लेकिन होनी को कुछ और ही मंजूर था और नये साल में उनके उत्सव की जगह दुखदायी खबर मिली। इस घटना के बाद परिवारवालों का रो-रोकर बुरा हाल है। वृद्ध दादा अंबिका सिंह, पिता अमरेन्द्र प्रसाद और माँ रेणु कुमारी के साथ ही छोटे भाई कुणाल गौरव के साथ ही अन्य परिजनों का रो -रो कर बुरा हाल है। उनके आंखों के आंसू नही थम रहे हैं।

सेना के अधिकारियों ने परिवार वालों को दी शहीद होने की खबर


फौजी अंकित 28 नवम्बर को अपने घर एकाढा गांव छुटियों में आया था और पहली जनवरी को लेह पहुंचकर अपनी डयूटी ज्वाइन कर ली थी। महज चार दिनों बाद ही उसकी मौत की खबर पाकर घर वाले अचंभित थे। सहसा उनके मौत की खबर परिवारवालों के लिये अविश्वसनीय था। सेना के अधिकारियों के द्वारा अंकित राजकुमार के शहीद होने की खबर उनके बड़े भाई कुणाल गौरव को दी गयी, जो इस वक्त दिल्ली में है। इसकी खबर उन्होंने अपने घरवालों को फोन पर दी। शहीद होने की खबर एकाढा गांव में मिलने के बाद पूरे गांव में मातमी सन्नाटा छा गया।

अधिकारियों ने घर पहुंचकर दी सांत्वना


जवान के शहीद होने की खबर मिलने के बाद शनिवार को चेवाड़ा के बीडीओ पुष्पलता, सीओ अरविन्द कुमार चौधरी ने एकाढा गांव पहुंचकर परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया। जिला परिषद उपाध्यक्ष रंजीत सिंह उर्फ बुधन भाई, जदयू के युवा नेता दीपू भारती, प्रिंस कुमार सहित अन्य लोगों ने गहरा दुख व्यक्त करते हुए मृत शहीद जवान के परिजनों से दुख की इस घड़ी में धैर्य रखने को कहा है।