Hindi News »Bihar News »Patna News» Bihar Top In Country For Child Marriage

नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे: बाल विवाह के मामले में बिहार है देश में सबसे आगे

Bhaskar News | Last Modified - Dec 14, 2017, 06:58 AM IST

नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे 2015-16 की संशोधित फाइनल रिपोर्ट यही बताती है।
  • नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे:  बाल विवाह के मामले में बिहार है देश में सबसे आगे
    +2और स्लाइड देखें

    पटना.देश में बाल विवाह के मामले में पश्चिम बंगाल नहीं, बिहार नंबर 1 पायदान पर है। नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे 2015-16 की संशोधित फाइनल रिपोर्ट यही बताती है। साथ ही ठप्पा ठोंकती है कि इस कुरीति के खिलाफ चौतरफा जंग क्यों जरूरी है? यह इकलौता दाग सूबे की सेहत ही नहीं मानव विकास के तमाम मानकों पर राज्य को पीछे धकेलने के लिए जिम्मेदार है।

    चंद महीने पहले नंबर पर दो था बिहार

    कच्ची उम्र में शादी का सीधा वास्ता बच्ची के मानसिक-शारीरिक विकास से तो है ही, शिशु-मृत्यु दर, मातृत्व मृत्यु दर, प्रजनन दर (टीएफआर), कुपोषण, अनीमिया, स्टंटिंग ( समुचित विकास न होने से पनपने वाला ठिगना पन) आदि के बीज भी इसी में छिपे है। इन तमाम मोर्चों से जूझने के लिए सरकार के बजट का बड़ा हिस्सा खर्च होता है। क्योंकि हर मोर्चे के लिए अलग-अलग योजनाएं हैं। यहां बता दें कि चंद महीने पहले जारी नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे की फैक्टशीट में बाल विवाह के मोर्चे पर बिहार का स्थान देश में दूसरा था। संशोधित रिपोर्ट ने रैंकिंग बदल दी है। यह सब तब है जब देश में बाल विवाह रोकने का कानून 2006 में लागू हुआ। रिपोर्ट, कानून लागू होने के 10 साल बाद आई है।

    ऐसे टली कुख्यात नक्सली की नाबालिग बेटी की शादी

    बेटी की शादी के लिए जेल में बंद 40 साल का नक्सली रामप्रवेश यादव पेरोल पर बाहर आया था। पुलिस ने पहरा लगाया तो न बाराती पहुंचे और न ही दूल्हा। पुलिस ने पहरा इस मकसद से लगाया था कि जिस बच्ची की शादी होनी थी वह नाबालिग (उम्र-16 वर्ष) थी। बाराती इसलिए नहीं आए कि उन्हें बच्ची की उम्र और पुलिस की तैयारी का पता चल गया। शादी टल गई। जिस बच्ची की शादी होनी थी वह रामप्रवेश के छह बच्चों में तीसरी बेटी थी। बीते रविवार को बरात बोधगया से आनी थी। जेल जाने के डर से दूल्हा, बाराती शादी से इनकार कर गए। यह राज्य में बाल-विवाह के खिलाफ शुरू अभियान का परिणाम है। बाल विवाह के चलन और इसके खिलाफ कारगर रोक की नजीर है।

    शीर्ष राज्यराज्य प्रतिशत
    बिहार42.5
    प.बंगाल41.6
    आंध्र प्रदेश35.7
    राजस्थान35.4
    भारत26.8
  • नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे:  बाल विवाह के मामले में बिहार है देश में सबसे आगे
    +2और स्लाइड देखें
  • नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे:  बाल विवाह के मामले में बिहार है देश में सबसे आगे
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Bihar Top In Country For Child Marriage
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Patna

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×