Hindi News »Bihar »Patna» Brave Boy Saved Train Passengers Life

शाबाश! ... 12 साल के लड़के की बहादुरी, ऐसे बचा ली ट्रेन के पैसेंजर्स की जान

ट्रेन पैसेंजर्स को खतरे में देखकर वह पास के गेटमैन के पास पहुंचा और फिर सारी बातें बताई।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 19, 2017, 06:22 AM IST

    • जानकारी देता स्टूडेंट भीम कुमार।

      बगहा (मुजफ्फरपुर).सोमवार सुबह 11 बजे वाल्मीकिनगर से बगहा के लिए खुली 55072 पैसेंजर ट्रेन गोरखपुर-नरकटियागंज रेलवे ट्रैक पर आ रही थी। अवसानी हाॅल्ट के पास मिडिल स्कूल के पांचवीं क्लास के 12 साल का स्टूडेंट भीम की नजर टूटे रेल ट्रैक पर पड़ी। ट्रेन पैसेंजर्स को खतरे में देखकर वह पास के गेटमैन के पास पहुंचा और फिर सारी बातें बताई। इस तरह भीम ने गेटमैन की हेल्प से सैकड़ों ट्रेन पैसेंजर्स की जान बचा ली।

      1 घंटे बाद रवाना की गई ट्रेन


      ट्रेन रुकने के बाद भीम की बहादुरी और सूजबूझ की जानकारी पाकर आसपास के लोग मौके पर जुटे। रेल अधिकारियों की टीम भी पहुंची। लगभग एक घंटे तक ट्रेन को रोककर टूटे रेल ट्रैक की मरम्मत की गयी। तब परिचालन दोबारा बहाल हो सका। रेलवे के गेट नंबर 56 के समीप औसानी हाल्ट से लगभग 100 मीटर आगे रेल की पटरी टूटी पाई गई।

      भीम की ज़ुबानी कैसी रोकी ट्रेन

      कई साल पहले मैं अपने गांव मंगलपुर के पास ही अपनी रिश्तेदारी में सुखपुरवा गांव गया था। जब एक बच्चे की बड़ी चर्चा हो रही थी जिसने ट्रेन रुकवाकर पैसेंजर्स की जान बचाई थी। तभी से मन में था कि कभी उसे भी ऐसा कुछ कर पाने का मौका मिलता। स्कूल से मैं घर के लिए निकला था। रेल की टूटी पटरी देखकर मुझे पुरानी बात याद आई। पहले खुद से ट्रेन रुकवाने की सोची। लेकिन समय कम था। फिर बड़ी तेजी से मैं गेटमैन के पास दौड़ पड़ा।

      रेग्यूलर पेट्रोलिंग की व्यवस्था

      ट्रैक टूटने के कारणों के बाबत पीडब्ल्यूआई सुरेंद्र प्रसाद ने बताया कि ठंड की वजह से ट्रैक टूटने की घटना सामने आती है। इस बार भी यही कारण पाया गया। ट्रैक की सुरक्षा व निगरानी के लिए रेग्यूलर पेट्रोलिंग की व्यवस्था है ।

    • शाबाश! ... 12 साल के लड़के की बहादुरी, ऐसे बचा ली ट्रेन के पैसेंजर्स की जान
      +3और स्लाइड देखें
      टूटा हुआ रेलवे ट्रैक।
    • शाबाश! ... 12 साल के लड़के की बहादुरी, ऐसे बचा ली ट्रेन के पैसेंजर्स की जान
      +3और स्लाइड देखें
      ट्रेन के बाहर खड़े पैसेंजर्स।
    • शाबाश! ... 12 साल के लड़के की बहादुरी, ऐसे बचा ली ट्रेन के पैसेंजर्स की जान
      +3और स्लाइड देखें
      टूटा हुआ रेलवे ट्रैक।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Brave Boy Saved Train Passengers Life
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From Patna

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×